Samachar Nama
×

Indore लाल पानी बहेगा तो इंदौर वाटर प्लस सिटी नहीं बनेगा, इंडस्ट्री एरिया में कैमिकल युक्त लाल पानी बहने पर विशेषज्ञ ने चिंता जताई
 

Indore लाल पानी बहेगा तो इंदौर वाटर प्लस सिटी नहीं बनेगा, इंडस्ट्री एरिया में कैमिकल युक्त लाल पानी बहने पर विशेषज्ञ ने चिंता जताई


मध्यप्रदेश न्यूज़ डेस्क, कैमिकल वाला लाल पानी कहीं शहर को वाटर प्लस सिटी बनाने का खिताब न छीन ले. सांवेर रोड इंडस्ट्री क्षेत्र में लाल पानी बहने का मामला चर्चा में आ रहा है. जो जिम्मेदारों पर सीधे सवाल खड़े कर रहा है. खुले में कैमिकल बहने का मुद्दा संज्ञान में आने पर एसजीएसआइटीएस के वाटर रिसोर्सेस इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर ने इस पर कड़ी प्रक्रिया दी है.

प्रोफेसर संदीप नारुलकर का कहना है कि उद्योगों से लाल पानी खुले में बहेगा तो इंदौर वाटर प्लस सिटी कैसे बनेगा. शहर में नदी-नालों की स्थिति खराब है. जिसे लेकर जिम्मेदारों को सुधार करने की जरूरत है.
कैमिकल का पानी ट्रीट करने में खर्च ज्यादा है:  प्रोफेसर ने बताया कि उद्योग का कैमिकल युक्त दूषित पानी का ट्रीटमेंट करने में खर्च ज्यादा लगता है. दूषित पानी को शुद्ध करके छोड़ने पर उन्हें फायदे के रूप में मिलता कुछ नहीं. इसलिए भी उद्योग दूषित पानी सीधे छोड़ देते हैं. कई बार ऐसा होता है कि उद्योग दूषित पानी को संग्रहित करते हैं. फिर एक साथ बहा देते हैं. ऐसे उद्योग अपनी सहुलियत के लिए पर्यावरण प्रदूषित करते हैं. इनको नदी-नालों में बहाना भी खतरनाक होता है. दूषित पानी को ट्रीटमेंट करके ही छोड़ना चाहिए. ऐसे में इसे लेकर संबंधित विभाग को सख्त निगरानी रखनी होगी.

इंदौर न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story