Samachar Nama
×

Hisar फर्जी एमबीबीएस डॉक्टर गिरफ्तार,आरोपी सीएम फ्लाइंग को देता रहा झांसा
 

Hisar फर्जी एमबीबीएस डॉक्टर गिरफ्तार,आरोपी सीएम फ्लाइंग को देता रहा झांसा

हरियाणा न्यूज़ डेस्क, सीएम फ्लाइंग की टीम ने एनआईटी-दो से एक फर्जी एमबीबीएस डॉक्टर को पकड़ा है. आरोपी की पहचान ललित के रूप में हुई है. वह करीब दो साल से अपने दिवंगत ससुर के नाम पर क्लीनिक चला रहा था. आरोपी के ससुर एमबीबीएस डॉक्टर थे और ईएनटी स्पेशलिस्ट थे. साल 2020 में कोरोना के चलते उनकी मौत हो गई थी. तब से वहीं डॉक्टर बनकर मरीजों का इलाज कर रहा था.

सीएम फ्लाइंग की शिकायत पर कोतवाली थाना की पुलिस मामले की जांच कर रही है. कोतवाली थाना की पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है. सीएम फ्लाइंग के डीएसपी राजेश चेची ने बताया कि सूचना मिली थी कि एनआइटी दो चौक के पास जैन ईएनटी एंड आइ केयर नाम से क्लीनिक चल रहा है. इस आधार पर एसआई सतबीर सिंह, राजकुमार, डॉ.राजेश, डा.दीपक चौपड़ा, डा.मानसिंह के साथ मिलकर एक टीम गठित की. टीम ने क्लीनिक में छापा मार दिया. वहां ललित नाम का व्यक्ति मरीजों का इलाज करते हुए मिला. उससे चिकित्सकीय डिग्री मांगी, लेकिन वह कुछ भी नहीं दिखा पाया. क्लीनिक के बाहर डा.आरके जैन एमबीबीएस के नाम का बोर्ड लगा हुआ था. उस पर बीके, ईएसआई अस्पताल सहित कई बड़े अस्पतालों में काम करने का अनुभव लिखा हुआ था.
फर्जी अस्पताल के फरार डॉक्टर को भी पकड़ा
एक फर्जी अस्पताल के फरार डॉक्टर को नूंह पुलिस ने फरीदाबाद से गिरफ्तार किया है. आरेापी की पहचान संदीप जैन के रूप में हुई है. वह सेक्टर-82 स्थित प्रणायाम सोसाइटी में रहता था. पुलिस मामले की जांच कर रही है. नूंह पुलिस प्रवक्ता के अनुसार दिसंबर-2021 में रेवाड़ी की सीएम फ्लाइंग की टीम ने बड़कली पुन्हाना में एक फर्जी अस्पताल का भंडाफोड़ किया था.
सीएम फ्लाइंग डीएसपी राजेश चेची ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपी टीम को झांसा देता रहा. पहले उसने कहा कि उसने एमबीबीएस की पढ़ाई की है. साथ ही उसका सर्टिफिकेट कोरोना काल में कहीं खो गया. पूछताछ में सामने आया कि वह रोजाना 20 से अधिक मरीजों का इलाज करता था. पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है.

हिसार न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story