Samachar Nama
×

Gorakhpur तीमारदार को बरगलाने में दो एम्बुलेंसकर्मी बर्खास्त
 

Haridwar बर्खास्त जिपं अध्यक्ष सविता से वसूली न होने पर मांगा जवाब


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  बीआरडी मेडिकल कालेज प्रशासन की नजरें एम्बुलेंस संचालकों पर टेढ़ी हो गई है. बीआरडी के अधिकारी भी अब ऐसे एम्बुलेंस चालकों व कर्मचारियों की निगहबानी कर रहे हैं.  बीआरडी के सीएमएस ने एक एम्बुलेंस के कर्मचारियों को गेट के पास मरीज के तीमारदार से बात करते हुए पकड़ा. सीएमएस ने उसे पुलिस को सौंप दिया. जिसके बाद एम्बुलेंस संचालन कर रही संस्था ने दोनों को सेवा से बर्खास्त कर दिया है.

शाम कैम्पियरगंज सीएचसी से मरीज लेकर 108 नम्बर की एम्बुलेंस बीआरडी पहुंची. आरोप है कि मरीज को ट्रॉमा सेंटर में शिफ्ट करने के बाद चालक राकेश व ईएमटी सुरेश मुख्य गेट के पास दूसरे मरीज के तीमारदार से सेटिंग करने लगे. बीआरडी के नेहरू अस्पताल के सीएमएस की नजर पड़ी तो उन्होंने पूछताछ की. मामला संदिग्ध लगा तो दोनों को मेडिकल कॉलेज पुलिस चौकी को सौंप दिया. पुलिस ने फर्द दर्ज कर दोनों को निजी मुचलके पर छोड़ दिया. एम्बुलेंस संचालन करने वाली संस्था के नोडल अधिकारी शशांक त्रिपाठी ने पुलिस को आश्वासन दिया कि 24 घण्टे के भीतर दोनों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.
एम्बुलेंस का संचालन करने वाली संस्था ईएमआरआई ग्रीन हेल्थ सर्विसेज के प्रवक्ता सुनील यादव ने बताया कि दोनों कर्मचारियों के खिलाफ शिकायत मिली थी. जांच में तस्दीक होने पर तत्काल प्रभाव से दोनों कर्मचारियों को सेवा से मुक्त कर दिया गया.


गोरखपुर न्यूज़ डेस्क

Share this story