Samachar Nama
×

Gorakhpur 14 अफसरों का एक माह का वेतन रोका, इन अफसरों के वेतन हुए बाधित
 

Gorakhpur 14 अफसरों का एक माह का वेतन रोका, इन अफसरों के वेतन हुए बाधित

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क   डीएम कृष्णा करुणेश ने डेंगू के मामलों पर नियंत्रण के लिए नगर निगम, नगर पंचायतों एवं ब्लॉक स्तर पर एवं चिकित्सा विभाग द्वारा की जा रही कार्यवाही की जांच कराई थी. जांच के बाद सभी को अपनी-अपनी रिपोर्ट देनी थी. इनमें से 14 जांच अधिकारियों ने अपनी रिपोर्ट नहीं दी जिसे लापरवाही मानते हुए डीएम ने उनका नवम्बर माह का वेतन रोक दिया है. सभी को कारण बताओ नोटिस भी दिया है.
डीएम ने इसके लिए नगरीय क्षेत्र में वार्डवार अधिकारियों एवं नगर पंचायत की जांच के लिए संबंधित उप जिलाधिकारियों एवं ग्रामीण क्षेत्र के प्रभावित ग्रामों की जांच के लिए संबंधित बीडीओ को जांच अधिकारी नामित करते हुए 10 नवम्बर की सुबह 8 बजे निर्दिष्ट बिन्दुओं पर जांच कर आख्या रिपोर्ट मांगी थी.

डीएम के आदेश के बावजूद 14 अधिकारियों की जांच आख्या अभी तक न मिलने पर उन्होंने इस कृत्य को शासकीय दायित्वों के निर्वहन में घोर लापरवाही/शिथिल कार्यप्रणाली मानते हुए उनका नवम्बर का वेतन अग्रिम आदेशों तक रोक दिया है. डीएम ने कारण बताओ नोटिस भी दिया है.
जिलाधिकारी ने जिन अधिकारियों का वेतन बाधित किया है उनमें एसडीएम बांसगांव, गोला, चौराचौरा, एडीएसदर, उप निदेशक कृषि, जिला कृषि रक्षा अधिकारी, सहायक निदेशक हथकरघा, क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी, क्षेत्रीय क्रीडा अधिकारी, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी, प्रधानाचार्य राजकीय आईटीआई, बीडीओ भरोहिया, खोराबार, सहजनवा, कौडीराम, गोला, जगल कौड़िया, उरूवां, बडहलगंज, पिपरौली, चकबन्दी अधिकारी दीवान बाजार, चकबंदी अधिकारी रूस्तमपुर सहित गौतम लाल तथा धर्मेंन्द्र कुमार अवर अभियन्ता लोनिवि भवन शामिल है.


गोरखपुर न्यूज़ डेस्क
 

Share this story