Samachar Nama
×

Gorakhpur इकोनॉमी कोच में अब एसी थर्ड के बराबर किराया लगेगा, किराए का अर्थशास्त्रत्त्
 

Gorakhpur इकोनॉमी कोच में अब एसी थर्ड के बराबर किराया लगेगा, किराए का अर्थशास्त्रत्त्

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  पांच महीने पहले कुछ चुनिंदा ट्रेनों में शुरू की गई एसी-थ्री इकोनॉमी कोच का टैग अब हटने वाला है. इन बोगियों को भी सामान्य थर्ड एसी कोच की श्रेणी में रखा जाएगा और किराया भी सामान्य एसी कोच के बराबर ही लिया जाएगा. यानी अब इकोनॉमी क्लास की व्यवस्था खत्म हो जाएगी. अब वाणिज्य विभाग को आगे की कार्रवाई करनी है. थर्ड एसी के इकोनॉमी कोच के यात्रियों को भी बेडरोल (चादर, कंबल, तकिया) दिया जा रहा है. इकोनॉमी कोच में स्थान की कमी के चलते पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने बर्थ संख्या 81, 82 एवं 83 का उपयोग बेडरोल रखने के लिए किए जाने का निर्णय लिया है. ऐसे में 20 सितंबर एवं उसके बाद की तिथियों में जिन यात्रियों ने बर्थ संख्या 81, 82 एवं 83 आरक्षित करा लिया था, उन्हें इमरजेंसी कोटा के तहत उपलब्ध बर्थ आवंटित किया जा रहा है. 
वर्तमान में राप्तीसागर एक्सप्रेस में एसी थर्ड के इकोनॉमी कोच लगाए जा रहे हैं. इस कोच में अगर गोरखपुर से यशवंतपुर तक की यात्रा करते हैं तो 2510 रुपये किराया लगता है जबकि सामान्य थर्ड एसी कोच में 2595 रुपये लगते हैं. इस तरह यात्रियों को 80 रुपये कम देने होते हैं.

इकोनॉमी कोच वाली ट्रेनें
● गोरखपुर-यशवंतपुर ● गोरखपुर-एर्नाकुलम ● गोरखपुर-सिकंदराबाद
● लखनऊ-मुम्बई पुष्पक सुपरफास्ट
80 से 150 रुपये कम है इसका किराया
इकोनॉमी कोच का किराया सामान्य एसी कोच के किराए से करीब 80 से 150 रुपये कम है. इस कोच में भी यात्रियों की खूब डिमांड थी. यात्री सर्वे में पाया कि कोच में बेडरोल मिलना चाहिए. इसके बाद बोर्ड ने सितंबर से इस क्लास में भी बेडरोल की सेवा शुरू कर दी. हालांकि किराए का अंतर कम नहीं किया लेकिन अब किराए के अंदर को खत्म करने की कवायद शुरू कर दी गई है.


गोरखपुर न्यूज़ डेस्क
 

Share this story