Samachar Nama
×

Gorakhpur लेखाकार व सहायक अभियंता पर होगी कार्रवाई
 

Gorakhpur लेखाकार व सहायक अभियंता पर होगी कार्रवाई


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  विद्युत निगम के वितरण संभाग III के कैशियर इफ्तेखार अहमद सिद्दीकी ने नवंबर-20 में लेखाकार एवं सहायक अभियंता राजस्व (एईआर) की मिलीभगत से निगम के 40 लाख रुपये की हेराफेरी की. अधिकारियों ने मामले का संज्ञान लेते हुए कैंट थाने में कैशियर के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे निलंबित कर दिया है. लेकिन अन्य के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई।

जांच रिपोर्ट के आधार पर पूर्वांचल निगम के निदेशक कार्मिक ने हाल ही में सीई को पत्र भेजकर जवाब मांगा है। नए मुख्य अभियंता ने पूरी फाइल की समीक्षा के बाद धारा III के लेखाकार बैजनाथ और तत्कालीन सहायक अभियंता (राजस्व) मुकेश गुप्ता के खिलाफ कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है.इन दोनों पर धारा में 40 लाख रुपये के गबन के मामले में अपने पर्यवेक्षण कार्य में ढिलाई बरतने का आरोप है. उसी का नतीजा था कि प्रखंड के कार्यपालक सहायक/कैशियर इफ्तेखार ने पद पर रहते हुए करीब 40 लाख रुपये का आर्थिक गबन किया. मुख्य अभियंता के इस पत्र के बाद संभागीय अभियंताओं से लेकर लिपिक व लेखाकार संवर्ग में हड़कंप मच गया है. पूर्वांचल वितरण निगम के निदेशक कार्मिक एवं प्रशासन एसके बघेल ने 13 जून को मुख्य अभियंता को पत्र भेजकर कहा है कि 15 नवंबर, 2020 के मामले में वित्तीय कार्य में शामिल सहायक लेखाकार बैजनाथ गुप्ता एवं सहायक अभियंता (राजस्व) अनुभाग III के कार्यपालक सहायक की अनियमितताओं को भी उनके कार्य के प्रति लापरवाही का दोषी पाया गया है। उक्त कर्मचारियों पर की गई कार्रवाई की जानकारी 3 दिन के अंदर अपने स्तर से दें।

गोरखपुर न्यूज़ डेस्क
 

Share this story