Samachar Nama
×

Gorakhpur हाउसिंग सेक्टर में 1300 करोड़ का निवेश होगा, गोरखपुर विकास प्राधिकरण की मीट में निवेशकों ने दिए एक दर्जन प्रस्ताव, प्रमुख सचिव ने उद्यमियों को दिया भरोसा
 

Gorakhpur हाउसिंग सेक्टर में 1300 करोड़ का निवेश होगा, गोरखपुर विकास प्राधिकरण की मीट में निवेशकों ने दिए एक दर्जन प्रस्ताव, प्रमुख सचिव ने उद्यमियों को दिया भरोसा


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क   यूपी में देश-दुनिया से निवेश लाने की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कोशिशों के बीच उनका अपना शहर भी साथ आया है. गोरखपुर विकास प्राधिकरण की ओर से आयोजित इन्वेस्टर्स समिट में उद्यमियों ने करीब 1300 करोड़ रुपये के निवेश की हामी भरी. हाउसिंग सेक्टर की इन परियोजनाओं के वित्तीय वर्ष 2023-24 में जमीन पर उतरने की उम्मीद है.

आवास विभाग ने  प्रदेश के सभी विकास प्राधिकरणों में इन्वेस्टर्स मीट का आयोजन एक साथ किया. अपराह्न 11 बजे से शुरू हुए इस आयोजन से सभी प्राधिकरण वर्चुअल रूप से एक साथ जुड़े. साथ ही आवास विभाग के प्रमुख सचिव नितिन रमेश गोकर्ण भी कार्यक्रम से जुड़े. प्रमुख सचिव ने उद्यमियों की समस्याएं सुनीं और आवश्वस्त किया कि नई नीति में उनकी तमाम समस्याओं का समाधान हो जाएगा. नक्शा पास कराने की प्रक्रिया सहज होगी, इसके लिए समय सीमा भी तय होगी. उन्होंने यह भी विश्वास दिलाया कि फरवरी में होने वाली इन्वेस्टर्स समिट में एमओयू (करार) करने वाले सभी निवेशकों की समस्याओं का समाधान करा कर उनके प्रोजेक्ट को जमीन पर उतारने में पूरी मदद की जाएगी. प्रमुख सचिव ने बताया कि प्रदेश में सौ इंट्रीग्रेटेड टाउनशिप बनाने का लक्ष्य लेकर सरकार काम कर रही है.
अनियोजित विकास नहीं होने देंगे उपाध्यक्ष
जीडीए उपाध्यक्ष महेंद्र सिंह तंवर ने निवेशकों का स्वागत करते हुए विश्वास दिलाया कि गोरक्षनगरी में अनियोजित विकास को रोका जाएगा. उन्होंने बताया कि 26 कालोनियां अवैध घोषित की गई हैं, उन्हें नियम के मुताबिक वैध करने की कोशिश की जाएगी. उन्होंने निवेशकों से कहा कि वे नई तकनीक के साथ नए दौर के शहर के विकास के लिए आगे आएं. कोरिया की मिवान तकनीक से बहुमंजिला भवन बनाएं. उपाध्यक्ष महेंद्र सिंह तंवर ने ट्रांजिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट पॉलिसी, डेवलपमेंट स्कीम के लिए निजी जमीन का अधिग्रहण करने पर मुआवजे के रूप में एफएआर (फ्लोर एरिया रेशो) देने वाले ट्रांसफरेबल डेवलपमेंट राइट्स व लैंड पुलिंग को अपनाने पर जोर दिया.
जीडीए के इन्वेस्टर्स मीट में ये उद्यमी हुए शामिल
जीडीए सभागार में हुई इन्वेस्टर्स मीट में ऐश्प्रा लाइफ स्पेस और ऐश्प्रा डेवलेपर्स के निदेशक अतुल सर्राफ, केके कंस्ट्रक्शन एवं बिल्डर्स के जगदीश कुमार आनंद, साकेतकुंज लैंडमार्क प्राइवेट लिमिटेड के राजेंद्र प्रसाद जायसाल, एडी ईस्टेट डेवलपर्स के निदेशक एवं क्रेडाई यूपी प्रेसिडेंट शोभित मोहन दास, श्रीवास्तव ट्रेडर्स के निदेशक अरुण कुमार श्रीवास्तव, पोचे डिजाइन स्टूडियो के निदेशक हर्षित मालवीय, पीवीएस इंटर प्राइजेज के चंदन नारायण, अक्षत नारायण, रेडिशन से अरुण चंद, लोटस निक्को होटल एण्ड रेजिडेंशियल से अमर नाथ पाण्डेय, रेडिसन ब्लू से राजेश सिंह, पीके रीयल इस्टेट से पवन कुमार सिंघानियां मौजूद रहे.
इन्होंने दिए निवेश प्रस्ताव
● ऐश्प्रा लाइफ स्पेस -अतुल सराफ -5 आवासीय टॉवर - 200 करोड़
● ऐश्प्रा डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड- ग्रुप हाउसिंग-060 करोड़
● केके कंस्ट्रक्शन एवं बिल्डर्स-जगदीश कुमार आनंद-ग्रुप हाउसिंग एवं कामर्शियल डेवलपमेंट-600 करोड़ ● होटल निक्को-अमरनाथ पाण्डेय-ताज लोटस 5 स्टार-075 करोड़ ● एडी एस्टेट डेवलपर्स-शोभित मोहन दास-होटल ताज वेवांता-300 करोड़ ● साकेतकुंज लैंडमार्क प्राइवेट लिमिटेड-राजेंद्र प्रसाद जायसवाल-रामाडा होटल-50 करोड़ ● पीवीएस इंटरप्राइजेज-चंदन नारायण-वॉटरबाडी रखरखाव एवं एम्यूजमेंट पार्क-04.5 करोड़ ● हर्षित मालवीय-डिजाइन स्टूडियो-002 करोड़ ● अरुण कुमार श्रीवास्तव-रेजिडेंशियल प्लाट- 5 करोड़.


गोरखपुर न्यूज़ डेस्क
 

Share this story