Samachar Nama
×

Gopalganj कैदी वाहन सीवरेज गड्ढे में फंसा, बड़ा हादसा टला, सीवरेज गड्ढे में भरा गया बालू धंसा, कैदी वाहन सहित पुलिस गाड़ी और एम्बुलेंस सीवरेज गड्ढे में फंसी
 

Gopalganj कैदी वाहन सीवरेज गड्ढे में फंसा, बड़ा हादसा टला, सीवरेज गड्ढे में भरा गया बालू धंसा, कैदी वाहन सहित पुलिस गाड़ी और एम्बुलेंस सीवरेज गड्ढे में फंसी


बिहार न्यूज़ डेस्क जब से शहर के अंदर सीवरेज योजना और नल जल योजना पर काम शुरू हुआ है तब से शहरवासियों की जान सांसत में पड़ी हुई है. बिना कोई सुरक्षा मानक और निर्देशों का पालन करके लगातार सड़क तोड़े जा रहे है और बिना उचित प्रबंध के बनाये जा रहे है. जिस कारण कई बार दुर्घटना हो चुकी है. बावजूद निर्माण कार्य में कोई बदलाव नहीं आया है.

 बनाये गए सीवरेज के लिए गड्ढे में कैदी वाहन, एक पुलिस की गाड़ी और एक एम्बुलेंस कचहरी रोड में अंबेडकर चौक से थोड़ी आगे फंस गई. ये तो शुक्र रहा कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ. वरना कैदियों से भरी वाहन अगर पलट जाती तो कई कैदी और पुलिस वाले हताहत हो सकते थे. साथ ही सड़क पर चलने वाले भी यात्री इस वाहन की चपेट में आकर हताहत हो सकते थे. स्थानीय हार्डवेयर दुकानदार ने बताया कि कई दिन पहले कचहरी रोड में सीवरेज पाइप बिछाने को लेकर गड्ढा किया गया था. दो दिन पहले उसमें बालू भरा गया. लेकिन बालू की फिलिंग सही से नहीं की गयी. लगभग 3 बजे दोपहर सबसे पहले एक एम्बुलेंस उस सीवरेज वाले बालू में फंस गई. लेकिन स्थानीय लोगों के सहयोग से उसे निकाल दिया गया. उसके बाद एक पुलिस की बोलेरो गाड़ी उसी जगह बालू में धंस गयी. उसके पीछे 42 कैदियों और पुलिस वालों से भरे कैदी वाहन आ रहा था. वह भी उस गड्ढे में फंसकर झुक गया. वाहन में बंद कैदियों में भी अफरातफरी मच गई.
एक घंटे बाद दूसरे कैदी वाहन मंगाया गया. जिससे सभी कैदियों को मंडल कारा भेजा गया. स्थानीय नागरिकों ने बताया कि लगातार शहर में बेतरतीब ढंग से सीवरेज का निर्माण कराया जा रहा है. इसमें सुरक्षा के मानक का जरा भी ध्यान नहीं रखा जा रहा है. राहगीर लगातार गिर कर चोटिल हो रहे हैं. इधर, सीवरेज योजना के प्रोजेक्ट इंचार्ज चंदन कुमार ने बताया कि जहां गाड़ी धंसी है वहां हमारी एजेंसी सिर्फ गड्ढा कर पाइप बिछा रही है.
उस जगह गड्ढे भरने और रेस्टोरेशन का काम आरसीडी को करना है. ये उनकी जिम्मेवारी है कि काम सुरक्षात्मक हो. वही आरसीडी के कार्यपालक अभियंता संजय कुमार ने बताया कि गड्ढे की फिलिंग तो सही ढंग से तो की गई थी. लेकिन वो जल्द ही इन मामले को दिखाते हैं और जेसीबी भेज कर वाहन निकाले जाएंगे.

गोपालगंज  न्यूज़ डेस्क
 

Share this story