Samachar Nama
×

Gaya  चोरों के निशाने पर शहर का लोको मध्य विद्यालय, विभाग है बेफ्रिक, देर रात स्कूल के बचे ग्रिल तक उखाड़ ले गए, शिक्षा विभाग व पुलिस दोनों निष्क्रिय, दहशत में शिक्षक व छात्र
 

Gaya  चोरों के निशाने पर शहर का लोको मध्य विद्यालय, विभाग है बेफ्रिक, देर रात स्कूल के बचे ग्रिल तक उखाड़ ले गए, शिक्षा विभाग व पुलिस दोनों निष्क्रिय, दहशत में शिक्षक व छात्र


बिहार न्यूज़ डेस्क  शहर के डेल्हा थाना क्षेत्र के लोको मध्य विद्यालय में एक बार फिर मंगलवार की देर रात चोरी का मामला सामने आया है. चोरी भी ऐसे की देखने वालों के साथ-साथ सुनने वाले भी हैरान परेशान हो रहे हैं. यहां अब तक एक दर्जन से अधिक बार चोरी की घटना को अंजाम दिया जा चुका है, लेकिन पुलिस और शिक्षा विभाग के लिए यहां होने वाली चोरी की घटनाएं मायने नहीं रखती है.
पिछले कुछ महीनों से शहर का लोको मध्य विद्यालय चोरो के निशाने पर है, लेकिन स्कूल प्रबंधन से शिक्षा विभाग को अवगत कराए जाने के बाद भी विभाग पूरी तरह से बेफ्रिक बना हुआ है. इधर, लागातार हो रही चोरी की घटनाओं के बाद स्कूल के शिक्षक व छात्र भी दहशत में हैं और स्कूल आने से कतराने लगे हैं.
शिक्षा विभाग के अधिकारियों में बच्चों का भविष्य को लेकर न तो कोई चिंता है और न ही सरकारी संपत्ति को लेकर. विभाग के जिम्मेदार अधिकारी का कहना है कि इसमें हम क्या कर सकते हैं.  भी प्रतिदिन की तरह जब विद्यालय के प्रधानाध्यापिका बिनीता कुमारी स्कूल पहुंची तो देखा कि उसके स्कूल का ग्रील ही नही था, जब आसपास के लोगों से पूछताछ करने लगी कि किसी को ले जाते देखा है. इस दौरान लोगों ने बताया कि स्कूल से थोड़ी ही दूरी पर नाला के किनारे ग्रिल फेंका हुआ मिला.
क्या कर सकते हैं हम
अगर स्कूल में बार-बार चोरी होती है तो इसकी जानकारी हम पुलिस को देते है. अब पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करती है तो इसमें हम क्या कर सकते हैं. हालाकि विभाग स्कूल को वहां से शिफ्ट करने का प्रयास कर रहा है. जमीन खोजी जा रही है. जल्द ही आगे की कार्रवाई होगी.
-राजदेव राम, जिला शिक्षा अधिकारी
गश्त के दौरान पहुंची पुलिस

स्कूल की वर्तमान स्थिति
● लोको मध्य विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों की संख्या 221 से अधिक
● स्कूल में कुल दस शिक्षक, नौ महिलाएं, पुरुष की संख्या एक
● लोको मध्य विद्यालय में कक्षा एक से कक्षा आठवीं तक की पढाई होती है
● एक दर्जन से अधिक बार हो चुकी है चोरी, आज तक कोई नहीं पकड़ाया
● पुलिस ने अभी तक एक बार भी नहीं की कार्रवई, सिर्फ आवेदन लेती है
● स्कूल के बाहर असामाजिक तत्वों का बसेरा, डरती हैं शिक्षकाएं
एक दर्जन से अधिक बार हो चुकी है चोरी
प्रधानाध्यापिका बिनीता कुमारी ने बताया कि विद्यालय में अबतक लगभग एक दर्जन से अधिक बार चोरी हो चुकी है. अब तो विद्यालय में शायद ही कोई सामान बचा हो, जिसे चोर ले जा सके. बरामदा में ग्रिल लगा था. उसे भी चोर मंगलवार की देर रात चोरी कर ले गये. यह तो इक्तिफाक है कि वह नाला के पास फेंका हुआ मिल गया. थोड़ी देर हो जाता तो इसे भी लोग यहां से उठाकर ले भागते. विद्यालय के कुर्सी, बेंच, खिड़की, दरबाजा, बच्चों के पढने के लिए किताब, पंखा सभी चोर बारी-बारी से ले भागे है. अब विद्यालय में कोई ऐसा चीज नही बचा जो चोर ले जाकते है.
शिक्षक व बच्चे स्कूल आने से कतराते हैं
लोको मध्यम विद्यालय में कुल दस शिक्षक कार्यरत हैं, जिनमें नौ महिलाएं हैं तो एक पुरुष शिक्षक हैं. स्थानीय लोगों की मानें तो स्कूल के पास हमेशा असामाजिक तत्वों का जमावड़ा रहता है. कार्यरत शिक्षकों व बच्चों में भी खौफ इस कदर है कि अब स्कूल आने से कतराने लगे हैं. स्थिति इस कदर गंभीर है कि स्कूल के पास ही एक झाड़ी पर लड़कों का जमावड़ा होता है. अपराधिक प्रवृति के ये लोग कौन ठीक दिन में ही आकर कुछ कर बैठे. इस तरह की चोरी की घटना को लेकर जिला शिक्षा पदाधिकारी व डेल्हा थाना को कई बार सुचित कर चुके है. वही कई बार लिखित भी दिये है. बावजूद इसके कोई कार्रवाई अबतक नही हुयी है.
चोरी की घटना के बारे में सूचना मिलने के बाद पुलिस पदाधिकारी को गश्त वाहन के साथ घटना स्थल पर भेजा गया था. इस संबंध में विद्यालय के प्रधानाध्यापिका द्वारा अभी तक कोई आवेदन नही मिला है. आवेदन आने के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी. -धन्नु सिंह, प्रभारी थानाध्यक्ष, डेल्हा गया.


गया न्यूज़ डेस्क 
 

Share this story