Samachar Nama
×

Faridabad सीमा क्षेत्र में सीसीटीवी न होने से वारदात बढ़ी, चोर लूटपाट को अंजाम देने के बाद आसानी से हो रहे फरार, पुलिस के लिए पहचान करना हो रहा है मुश्किल
 

Faridabad सीमा क्षेत्र में सीसीटीवी न होने से वारदात बढ़ी, चोर लूटपाट को अंजाम देने के बाद आसानी से हो रहे फरार, पुलिस के लिए पहचान करना हो रहा है मुश्किल


हरियाणा न्यूज़ डेस्क, शहर के बॉर्डर इलाकों में सीसीटीवी कैमरे की समूचित व्यवस्था न होने से बदमाशों की संदिग्ध गतिविधियां बढ़ रही है. शहर में एक जनवरी अब तक करीब 30 वाहन चोरी की वारदात को चोर अंजाम दे चुके हैं. इन क्षेत्रों में लोगों से लूटपाट चोरी कर बदमाश दिल्ली व अन्य शहरों में फरार हो जाते हैं. इनकी पहचान करना पुलिस के लिए मुश्किल हो रहा है.

इस क्षेत्र में कई ऐसे मामले हैं, जिसमें बदमाश स्नैचिंग, वाहन चोरी आदि वारदात को अंजाम देकर शहर की सीमा पार कर आसानी से दूसरे शहर में प्रवेश कर जा रहे हैं. स्मार्ट सिटी की ओर से शहर में करीब 1200 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. स्थानीय लोगों का आरोप है कि क्राइम कंट्रोल के लिए लगाए गए कैमरे केवल चालान काटने तक ही सिमित है. सीसीटीवी कैमरे पुलिस को आरोपियों को पकड़ने में मदद नहीं कर रही है.
इन क्षेत्रों में नहीं लगे हैं सीसीटीवी कैमरे
पल्ला थाना क्षेत्र, बसंतपुर गांव, ईस्माईलपुर, ओम एन्क्लेव, दीपावली एन्क्लेव पंचशील एन्क्लेव आदि ऐसे क्षेत्र हैं, जहां से दर्जनों गलियां दिल्ली के जैतपुर, मीठापुर, गढ्ढा कॉलोनी, कालिंदी-कुंज रोड, ज्ञान मंदिर आदि क्षेत्रों में पहुंचने के लिए निकलती है. सूरजकुंड थाना क्षेत्र स्थित लकड़पुर, चार्म्सवुड, सूरजकुंड रोड, शूटिंग रेंज आदि ऐसे क्षेत्र हैं, जहां से दिल्ली जाना आसान है. इनमें अधिकांश जगहों पर सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था नहीं होने से परेशानी बढ़ रही है.
पुलिस ने 150 स्थान किए हैं चिह्नित
पुलिस का कहना है कि शहर से सटे दिल्ली, पलवल, गुरुग्राम आदि शहरों में प्रवेश करने वाले करीब 150 छोटे-बड़े प्वाइंट को चिन्हित किया हैं. पुलिस का कहना है कि इन जगहों पर स्मार्ट सिटी से सीसीटीवी कैमरे लगाने की मांग की गई है. क्योंकि चिन्हित प्वाइंट से लोग आसानी से दूसरे शहरों में प्रवेश करते है. इनमें सबसे अधिक प्वाइंट सराय ख्वाजा, पल्ला व सूरजकुंड थाना क्षेत्र में है.
बॉर्डर इलाकों में सीसीटीवी कैमरे लगाने पर काम चल रहा है. जल्द सभी छोटे-बड़े प्वाइंट पर इन्हें लगाया जाएगा. इसके लिए स्मार्ट सिटी लिमिटेड से मदद ली जा रही है. शहर में जगह-जगह लगे सीसीटीवी कैमरे से चालान करने और वारदात पर अंकुश लगाने में काफी मदद मिल रही है.
- मुकेश मलहोत्रा, डीसीपी क्राइम

फरीदाबाद न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story