Samachar Nama
×

Buxar कक्षा 5 से ही माहवारी पर चले जागरूकता कार्यक्रम, किशोरी स्वास्थ्य योजना का लाभ मिलने का प्रस्ताव रखा गया कार्यक्रम
 

Buxar कक्षा 5 से ही माहवारी पर चले जागरूकता कार्यक्रम, किशोरी स्वास्थ्य योजना का लाभ मिलने का प्रस्ताव रखा गया कार्यक्रम


बिहार न्यूज़ डेस्क पांचवीं कक्षा में ही 45 फीसदी बच्चियों को माहवारी शुरू हो जाती है. इस उम्र में बच्चियों को माहवारी के बारे में सही जानकारी मिले, इसके लिए अब प्राथमिक स्कूल स्तर पर भी माहवारी स्वच्छता प्रबंधन कार्यक्रम चलाया जाएगा.
महिला विकास निगम के चीफ मास्टर ट्रेनिंग कार्यक्रम के दौरान कई शिक्षिकाओं ने यह बातें रखीं. इसके बाद यह तय किया गया कि प्राथमिक स्कूलों में भी अब माहवारी पर स्वच्छता प्रबंधन कार्यक्रम चलाया जाएगा. इस मौके पर शिक्षिकाओं द्वारा पांचवीं कक्षा की बच्चियों को भी किशोरी स्वास्थ्य योजना का लाभ मिलने का प्रस्ताव रखा गया. ज्ञात हो मुख्यमंत्री किशोरी स्वास्थ्य योजना के तहत छठी कक्षा की छात्राओं को तीन सौ सालाना दिए जाते हैं. शिक्षिकाओं की मानें तो अभी तक छठी या सातवीं कक्षा में जाने पर छात्राओं की माहवारी शुरू होती थी. पिछले तीन-चार सालों में देखा रहा है कि पांचवीं कक्षा में भी कई बच्चियों की माहवारी शुरू हो जाती है.

छोटी बच्चियां भी कर रहीं अब किशोरी स्वास्थ्य राशि की मांग
वहीं जिन बच्चियों की माहवारी पांचवीं हो जा रही है, वो अब किशोरी स्वास्थ्य के तहत राशि की मांग कर रही है. कन्या मध्य विद्यालय गोलघर की प्राचार्य पूनम कुमारी ने बताया कि बच्चियां बार-बार सेनेटरी पैड मांगती हैं. वहीं कई बच्चियां राशि की मांग करती हैं, जिससे वो सेनेटरी पैड खरीद सकें.


बक्सर न्यूज़ डेस्क 
 

Share this story