×

Bilaspur अवैध रेत के लिए बनाए गड्ढे में  डूबा मासूम, 7 साल के बच्चे की मौत

Bilaspur अवैध रेत के लिए बनाए गड्ढे में  डूबा मासूम, 7 साल के बच्चे की मौत

बिलासपुर जिले में अवैध बालू खनन से गड्ढे में भरे पानी में डूबने से 7 वर्षीय बच्चे की मौत हो गयी. बताया जा रहा है कि बच्चा स्कूल से लौटकर नहाने गया था. जहां उसकी डूबने से मौत हो गई। परिवार को इस बात का पता तब चला जब आसपास के लोगों ने पानी से भरे गड्ढे में उसकी लाश ऊपर तैरती देखी। पूरा मामला कोनी थाना क्षेत्र का है. कछार अरपा नदी के तट पर स्थित है। यहां नदी से रेत का अवैध खनन लंबे समय से चल रहा है। मशीनों से बालू निकालने के लिए नदी के चारों ओर बड़े-बड़े गड्ढे बनाए गए हैं। इसमें डूबने की घटनाएं भी होती रहती हैं। रात करीब 12 बजे आयुष नहाने चला गया। लेकिन काफी समय बाद भी वह नहीं लौटा। जिस पर परिजन उसकी तलाश करने लगे। इसी बीच गांव के कुछ लोगों ने वहां पहुंचकर आयुष के पिता संदीप को बताया कि आयुष का शव गड्ढे में भरे पानी में पड़ा है. यह सुनते ही संदीप रोने लगा और तुरंत मौके पर चला गया।

वहीं, कोनी पुलिस को भी इसकी सूचना दी गई। जिसके बाद बच्चे के शव को पानी से निकाल कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। इधर, ग्रामीणों का आरोप है कि अवैध बालू खनन से यह गड्ढा इतना बड़ा हो गया है. जिससे आज बच्चे की मौत हो गई है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में आज से नहीं बल्कि लंबे समय से बालू खनन का कार्य किया जा रहा है. हम कई बार शिकायत कर चुके हैं। अभी तक इस ओर किसी ने ध्यान नहीं दिया। आज आखिरकार एक बच्चे की जान चली गई। जिससे अब ग्रामीणों में काफी आक्रोश है।

Share this story