Samachar Nama
×

Bhopal बच्चों के मध्याह्न भोजन पर सरकार सख्त, मुख्यमंत्री ने कहा- अमल में कोताही न हो
 

Bhopal बच्चों के मध्याह्न भोजन पर सरकार सख्त, मुख्यमंत्री ने कहा- अमल में कोताही न हो

मध्यप्रदेश न्यूज़ डेस्क, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार अल सुबह सीएम हाउस से चार जिलों भोपाल, रीवा, पन्ना और झाबुआ जिले की वर्चुअल समीक्षा की. उन्होंने स्कूलों में मध्याह्न भोजन वितरण पर सख्ती दिखाई. अफसरों से बोले- मध्याह्न भोजन वितरण में कहीं कोताही नहीं होनी चाहिए.
सीएम ने सबसे पहले पन्ना जिले की स्थिति जानी. वहां मध्याह्न भोजन को लेकर सख्ती के निर्देश दिए. कहा, योजना के क्रियान्वयन में बाधा नहीं आनी चाहिए. शिकायतों का निराकरण करें. पन्ना कलेक्टर ने बताया कि 1800 स्कूलों में नियमित रूप से मध्याह्न भोजन बांटा जा रहा है. कुछ केन्द्रों में मैपिंग की त्रुटि और तकनीकी समस्या के कारण कुछ समय के लिए दिक्कत आई थी, जिसे सुधार लिया है. शिवराज ने पन्ना कलेक्टर को विस्तृत जांच प्रतिवेदन भेजने के लिए कहा है.

दरअसल, पन्ना जिले में 128 स्कूलों में 6 महीने से मध्याह्न भोजन नहीं बंटने को लेकर खनिज मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह ने पत्र लिखा था. इसके बाद पड़ताल कराई गई. पता चला कि इन स्कूलों का आवंटन दूरस्थ सेंटर से है. इस कारण इनकी ओर से आवंटन समीपस्थ करने के लिए लिखा गया है. खनिज मंत्री भी इस बैठक में वर्चुअल तरीके से जुड़े. उन्हें भी पूरे तथ्य अफसरों ने बताएं.

भोपाल न्यूज़ डेस्क !!!

Share this story