Samachar Nama
×

Basti  ऐसे टीएलएम बनाएं जो बच्चों की समझ को बढ़ाए
 

Basti  ऐसे टीएलएम बनाएं जो बच्चों की समझ को बढ़ाए


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) बस्ती में चल रहे जनपद स्तरीय टीएलएम (टीचिंग लर्निंग मैटेरियल) निर्माण कार्यशाला द्वितीय बैच का समापन  हुआ. प्रतिभागियों ने शून्य निवेश नवाचार के द्वारा टीएलएम निर्माण की गतिविधियां सीखी.
कार्यशाला के तृतीय और अंतिम दिवस का शुभारंभ डायट प्राचार्य केएस वर्मा और कार्यशाला संयोजक व डायट प्रवक्ता शशिदर्शन त्रिपाठी ने किया.

मुख्य अतिथि महिला पीजी कॉलेज बस्ती की प्राचार्या प्रो. सुनीता त्रिपाठी व विशिष्ट अतिथि डॉ. रघुवर पांडेय की उपस्थिति में कार्यशाला प्रभारी व डायट प्रवक्ता शशिदर्शन त्रिपाठी, एसआरजी अंगद पांडेय और आशीष श्रीवास्तव ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया. प्राचार्य महिला कालेज ने कहा कि टीएलएम वास्तव में कक्षागत शिक्षण को समृद्धशाली और रुचिकर बनाने काफी सहायक है. प्राचार्य डायट ने कहा कि शिक्षक इस प्रकार के टीएलएम का निर्माण करें जो बच्चों के परिवेशीय वातावरण में उपलब्ध है, जिससे चीजों के प्रति उनकी समझ को विकसित किया जा सके.
कार्यशाला प्रभारी व डायट प्रवक्ता शशिदर्शन त्रिपाठी ने कहा कि इस कार्यशाला का उद्देश्य शून्य निवेश नवाचार के द्वारा न्यूनतम खर्च में टीएलएम का निर्माण करना है. टीएलएम कार्यशाला के सन्दर्भदाता एआरपी उमेश सिंह, बृजेश कुमार गुप्ता, डॉ. रविनाथ, डॉ. मृत्युंजय सिंह, सरिता, वर्षा पटेल, कल्याण, गोविंद प्रसाद, संदीप, इमरान आदि मौजूद रहे.


बस्ती  न्यूज़ डेस्क

Share this story