Samachar Nama
×

Allahbad ब्लॉक प्रमुख मुजफ्फर और उसके भाई की दस करोड़ की संपत्ति कुर्क
 

Allahbad ब्लॉक प्रमुख मुजफ्फर और उसके भाई की दस करोड़ की संपत्ति कुर्क


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क   गो तस्करी के आरोपित कौड़िहार के ब्लॉक प्रमुख मो. मुजफ्फर के खिलाफ  पुलिस ने एक और बड़ी कार्रवाई की. कौशाम्बी में करीब दस करोड़ कीमत की दो प्रॉपर्टी को गैंगस्टर एक्ट में कुर्क कर लिया. यह प्रॉपर्टी मो. मुजफ्फर और उसके भाई अरकम व अकरम की पत्नी गुलिस्ता बानो के नाम से खरीदी गई थी. इससे पूर्व पुलिस धूमनगंज और कौशाम्बी में ब्लॉक प्रमुख और उसके रिश्तेदारों की जमीन और बंगला गैंगस्टर एक्ट में कुर्क किया था.
धूमनगंज और पूरामुफ्ती पुलिस  कौशाम्बी के भीखनपुर और भीटी देह माफी में गैंगस्टर की कार्रवाई की. कौशाम्बी के उपजिलाधिकारी व स्थानीय पुलिस के साथ प्रयागराज पुलिस ने नगाड़ा बजाकर लोगों को एकत्रित किया. सबको बताया गया कि नवाबगंज निवासी मो. मुजफ्फर ने अपनी अवैध रूप से अर्जित संपत्ति से कौशाम्बी में अमरूद का बागीचा खरीदा है. जिलाधिकारी प्रयागराज के निर्देश पर इसे कुर्क किया जा रहा है. वहां पर नोटिस बोर्ड भी लगा दिया गया. पुलिस ने बताया कि गो-तस्कर मो. मुजफ्फर के खिलाफ गैंगस्टर, पुलिस टीम पर जानलेवा हमले समेत कुल 31 मुकदमा दर्ज है. शातिर ने अपने भाई, भाइयों की पत्नी और ससुरालवालों के नाम से प्रॉपर्टी खरीदी थी. उनसे आय का स्रोत पूछा गया तो कोई जवाब नहीं मिला. पूरी प्रॉपर्टी मो. मुजफ्फर की है. उसने अपने रिश्तेदारों के नाम से बैनामा कराया था. धूमनगंज इंस्पेक्टर राजेश मौर्या और पूरामुफ्ती एसओ उपेंद्र सिंह ने अब तक भू-माफियाओं की सवा सौ करोड़ से अधिक की प्रॉपर्टी गैंगस्टर एक्ट में जब्त की है.

अब तक 44 करोड़ की प्रॉपर्टी जब्त की गई
ब्लॉक प्रमुख मुजफ्फर की अब तक पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट में 44 करोड़ रुपये कीमत की प्रॉपर्टी कुर्क की है. नवाबगंज के रहने वाले मुजफ्फर ने बम्हरौली के पास अपना आलीशान बंगला बनवाया था. भाइयों के नाम भी अवैध कमाई से प्रॉपर्टी बनाई थी. नवाबगंज में भी जमीन खरीदी थी. कौशाम्बी में अमरूद का बागीचा खरीदा था. एक-एक करके पुलिस सभी संपत्ति को कुर्क कर लिया.
अशरफ की संपत्ति कुर्क करने की मिली अनुमति
अतीक के भाई अशरफ की लगभग सात करोड़ कीमत की एक प्रॉपर्टी कुर्क की जानी है. डीएम से अनुमति मिल गई है. झलवा में अशरफ की सात करोड़ की प्रॉपर्टी कुर्क हो चुकी है. इसके अलावा छह करोड़ की अतीक की प्रॉपर्टी कुर्की के लिए डीएम से अनुमति मांगी है. ये प्रॉपर्टी अतीक के पुश्तैनी जमीन के बगल में है.


इलाहाबाद न्यूज़ डेस्क
 

Share this story