Samachar Nama
×

Aligarh  एएमयू में दाखिले को आया था मुनीर, बना अपराधी
 

Aligarh  एएमयू में दाखिले को आया था मुनीर, बना अपराधी


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  बिजनौर में एनआईए के डीएसपी और उसकी पत्नी की हत्या करने वाले मुनीर खान का अलीगढ़ से गहरा नाता रहा है. तालीमनगरी एएमयू में दाखिले के लिए आए मुनीर को यहां प्रवेश तो नहीं मिला, लेकिन अपराध का ककहरा बहुत तेजी से सीख कर जरायम की दुनिया में बड़ा नाम बन गया. पुलिस के कागजों में साइको किलर के नाम से कुख्यात मुनीर की मौत से कई जिलों की पुलिस ने राहत की सांस जरूर ली होगी.

मूलरूप से बिजनौर के सहसपुर निवासी मुनीर अपने फूफा के बेटे जफर के पास साल 2013 में अलीगढ़ मुस्लिम विवि में ग्रेजुएशन में दाखिला लेने आया था. एएमयू में उसे दाखिला नहीं मिला, लेकिन उसकी यहां कुछ आपराधिक किस्म के युवाओं से दोस्ती हो गई. दाखिला न मिलने के बावजूद एएमयू के हास्टल उसका ठिकाना बनने लगे. बनारस निवासी एएमयू छात्र आशुतोष मिश्रा की उससे गहरी दोस्ती हो गई. इसके बाद वह अपने रास्ते से भटकता चला गया. सबसे पहले उसने एएमयू के छात्र गुटों की अदावत में सक्रियता निभाई. 2013 में एएमयू छात्र तल्हा पर हमला किया गया. इसमें आशुतोष उसके साथ था. अलीगढ़ की जमीं से उसने अपराध की दुनिया में कदम रखा और कुख्यात अपराधी बन गया. पहला मुकदमा भी यहीं दर्ज हुआ. एएनआईए के डीसीपी तंजील अहमद व उनकी पत्नी की हत्या उसने अलीगढ़ में सिपाही का मर्डर कर लूटी पिस्टल से ही की थी. उसने महज 25 साल की उम्र में नाम कमाने व शौक पूरे करने के लिए ज्यादातर सनसनीखेज अपराध किए.
जांच एजेंसियों के हाथ नहीं आया मुनीर अलीगढ़. कारोबारी फहद की 2014 में हत्या के बाद अलीगढ़ पुलिस आशुतोष की गिरफ्तारी में सफल रही थी. मगर, मुनीर चकमा दे गया था. इसके बाद उसने फरारी में ही एएमयू छात्र आलमगीर की हत्या को अंजाम दिया था. उसके बाद से पुलिस उसे तलाश रही थी. 2 अप्रैल 2016 को एनआईए के डीसीपी तंजील अहमद व उनकी पत्नी की हत्या कर दी. जब देशभर की तमाम जांच एजेंसियों के हाथ मुनीर नहीं लगा तो ऐसे में मुनीर की गिरफ्तारी के लिए अलीगढ़ पुलिस में तैनात इंस्पेक्टर अजय कौशल, एसओजी में कार्यरत राकेश यादव, दुर्विजय सिंह व फिरोज खान को एसटीएफ लखनऊ यूनिट से संबद्ध किया गया था. इन चारों ने दो महीने के प्रयास के बाद मुनीर को 26 जून को नोएडा-गाजियाबाद बॉर्डर के एक मकान से दबोच लिया था.


अलीगढ़ न्यूज़ डेस्क
 

Share this story