भारत का वो अनोखा मंदिर जहां प्रसाद में मिलता है नूडल्स और चाइनीज

जानकार रह जायेगें हैरान

काली मंदिर कोलकाता

यह प्रसिद्ध मंदिर चीनी काली मंदिर है यह कोलकाता के प्रसिद्ध तंगरा में स्थित है। यह मंदिर कोलकाता में काफी प्रसिद्ध है।

इतना पुराना है मंदिर

यह मंदिर 80 साल पुराना है ।पहले पेड़ के नीचे काली मां की मूर्ति की पूजा की जाती थी । 20 साल पहले बंगाली और चीनी समुदाय ने मिलकर इसे बनाया है।

बुरी आत्माओं के लिए पूजा

इस मंदिर में बंगाली पुजारी देवी की पूजा करते हैं और बुरी आत्माओं को दूर करने के लिए यहां पर कागज़ जलाएं जाते हैं।

मां काली की कृपा

लोगों में मान्यता हैं कि मां काली की कृपा से यहां बुरी शक्तियों का विनाश होता है । इस मंदिर के दर्शन से नकारात्मक ऊर्जा दूर भाग जाती है।

दो संस्कृतियों का विश्वास

यह बंगाली और चीनी समुदाय दोनों की संस्कृति के समेल्लन से बना हुआ है। इसमें दो समुदाय का विश्वास जुड़ा हुआ है।

जुड़ी हैं पौराणिक कथा

इस मंदिर के पीछे कई पौराणिक कथाएं जुड़ी हुई हैं। भक्तों का काली मां पर अटूट विश्वास है।

प्रसाद में मिलता है यह

यहां पर प्रसाद में चाइनीज फूड मिलता है । भक्त यहां काली मां को नूडल्स और चाइनीज खानें का भोग लगाते हैं और उसी को प्रसाद के रूप में बांटा जाता है।

भक्त चढ़ाते हैं प्रसाद

चाइनीज खानें के साथ साथ भक्त यहां पर बिस्कुट चढ़ाते हैं और उसी को प्रसाद के रूप में बांटा जाता है।

लेने आते हैं प्रसाद

इस मंदिर में भक्त दूर दूर से प्रसाद लेने आते हैं ।