देश में इस तरह पहली बार मना था गणतंत्र दिवस

देखें ऐतिहासिक फोटोज

भारत का पहला गणतंत्र दिवस

गणतंत्र दिवस पर देशभर में कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है, कर्तव्य पथ पर परेड का आयोजन होता है, जहां कई तरह के करतब दिखाए जाते हैं लेकिन, आज हम आपको बताएंगे कि भारत में पहला गणतंत्र दिवस कैसे मनाया गया था और कैसा नजारा था?

ब्रिटिश स्टेडियम में गणतंत्र दिवस की परेड

26 जनवरी, 1950 को भारत का पहला गणतंत्र दिवस दिल्ली में मनाया गया। पुराना किला के सामने स्थित ब्रिटिश स्टेडियम में गणतंत्र दिवस की परेड पहली बार देखने को मिली।

वर्तमान में दिल्ली का चिड़ियाघर

वर्तमान में इस जगह पर दिल्ली का चिड़ियाघर है और स्टेडियम की जगह पर नेशनल स्टेडियम स्थित है।

राजेन्द्र प्रसाद ने झंडा पहराया था

पहले गणतंत्र दिवस पर देश के पहले राष्ट्रपति डॉक्टर राजेन्द्र प्रसाद ने पुराना किला से तिरंगा झंडा पहराया था। सबसे पहले तोपों की सलामी दी गई।

काफी ऐतिहासिक था नजारा

1950 की गणतंत्र दिवस परेड अब की तुलना में इतनी भव्य नहीं थी। लेकिन, आजाद भारत के लिए पहली गणतंत्र दिवस की परेड किसी ऐतिहासिक दृश्य से कम भी नहीं थी।

काफी संख्या में लोग कनॉट प्लेस पहुंचे थे

पहली गणतंत्र दिवस परेड ब्रिटिश स्टेडियम में हुई थी। जिसकी एक झलक देखने के लिए काफी संख्या में लोग कनॉट प्लेस में जुटे थे।

सेनाओं की कुछ टुकड़ियां शामिल हुई थीं

परेड में थल, वायु और जल सेनाओं की कुछ टुकड़ियां शामिल हुई थीं।

कोई झांकियां नहीं निकाली गई

हालांकि, ना तो कोई झांकियां निकाली गई और ना ही हवाई करतब दिखाने वाले जहाज में जेट शामिल थे।

सी राजगोपालाचारी कार्यक्रम में शामिल हुए थे

कार्यक्रम में गवर्नर-जनरल पद पर तैनात सी राजगोपालाचारी भी शामिल हुए थे।