लखनऊ की सड़कों पर चलता फिरता एटीएम

झंझट को बाय बाय

लखनऊ की सड़कों पर 'बैंक ऑन व्हील

उत्तर प्रदेश सरकार के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री श्री ए के शर्मा ने उत्तर प्रदेश में फेडरल बैंक की पहली मोबाइल बैंक 'बैंक ऑन व्हील' को फ्लैग ऑफ कर जनता को किया समर्पित

आधुनिक सुविधाओं का लाभ

लखनऊवासियों को बैंकिंग की आधुनिक सुविधाओं का मिलेगा लाभ। इसे बड़ा कदम माना जा रहा है।

पासबुक प्रिंटिंग की सुविधा

वैन में उपलब्ध सुविधाओं एटीएम, ई कियास्क और पासबुक प्रिंटिंग मशीन कैश डिपाजिट

यूपी में नया प्रयोग

प्रदेश में यह पहली मोबाइल बैंकिंग की सुविधा मिली है। फेडरल बैंक द्वारा प्रदेश में यह पहला नया प्रयोग किया गया है

जनता के और करीब एटीएम सेवा

इस सुविधा से बैंकिंग सुविधाएं और तेज गति एवं आरामदायक तरीके से जनता के निकट पहुंचेगी।

क्रांतिकारी बदलाव

एटीम के अमल में आने की वजह से अब बैंकों के चक्कर लगाने कम हो गए हैं। इसे एक बड़ी कामयाबी के तौर पर देखा जाता है।

एटीएम की सुविधा भारत के सभी हिस्सों में

एटीएम में अब कई सुविधाओं को शामिल किया गया है जिसके बाद छोटे छोटे कामों के लिए बैंकों की शाखाओं पर जाने की निर्भरता खत्म हो गई है।

1987 में देश का पहला एटीएम

भारत में पहला एटीएम 1987 में HSBC द्वारा मुंबई में स्थापित किया गया था। अगले दस वर्षों में, भारत में लगभग 1500 एटीएम स्थापित किए गए। 1997 में, आईबीए ने भारत में साझा एटीएम का पहला नेटवर्क स्वधन स्थापित किया।

लाइक और शेयर करें

अगर आपको ये स्टोरी पसंद आयी हो तो इसे लाइक और शेयर करें, साथ ही ऐसी और स्टोरीज के लिए पढ़ते रहें Samacharnama.com