×

CM Mamta के ख़िलाफ़ भवानीपुर सीट से भाजपा उम्मीदवार Priyanka Tibrewal को निर्वाचन आयोग का नोटिस

ममता बनर्जी के ख़िलाफ़ भवानीपुर सीट से भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल को निर्वाचन आयोग का नोटिस

पश्चिम बंगाल न्यूज डेस्क !!! पश्चिम बंगाल में साल के शुरुआत में हुआ राजनीति ड्रामा एक बार फिर दिखाई देने लगा है। दरअसल पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को अपना मुख्यमंत्री पद बरकरार रखने के लिए कोई एक विधानसभा सीट जितनी होंगी इसके लिए उन्होंने भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र चुना है। ऐसे में भाजपा कैसे पीछे रह जाती, भाजपा ने भी अपनी युवा नेता प्रियंका टिबरेवाल को मैदान में ममता के सामने उतारा है।

भारत निर्वाचन आयोग ने बुधवार को आगामी विधानसभा उपचुनाव के लिए अपना नामांकन दाखिल करते समय कोविड प्रोटोकॉल के उल्लंघन के लिए भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल को नोटिस जारी किया।

नोटिस में भवानीपुर निर्वाचन क्षेत्र के रिटर्निंग ऑफिसर ने टिबरेवाल से बुधवार शाम 5 बजे तक जवाब मांगा है कि उनकी आगे की रैलियों की अनुमति क्यों न दी जाए। 
भाजपा की युवा शाखा की नेता और पेशे से वकील प्रियंका टिबरेवाल, 30 सितंबर को भवानीपुर विधानसभा सीट के लिए तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी के खिलाफ खड़ी होंगी।
 
टिबरेवाल ने सोमवार को दक्षिण कोलकाता में सर्वेक्षण भवन से अपना नामांकन दाखिल किया, जिसमें विपक्ष के नेता और नंदीग्राम के विधायक सुवेंदु अधिकारी, सांसद अर्जुन सिंह, पार्टी के वरिष्ठ नेता दिनेश त्रिवेदी और अभिनेता रुद्रनील घोष शामिल थे।
 
चुनाव आयोग के नोटिस में उनके द्वारा नामांकन दाखिल करने के दिन आदर्श आचार संहिता और कोविड -19 प्रोटोकॉल के उल्लंघन का हवाला दिया गया है। वहीं भाजपा ने मंगलवार को भवानीपुर के लिए ममता के नामांकन पर आपत्ति जताते हुए उनके कागजात में आपराधिक रिकॉर्ड के विवरण की कमी का हवाला दिया था।
 
टिबरेवाल के मुख्य चुनाव एजेंट सजल घोष ने पोल पैनल को पत्र लिखा की, “उनके (ममता बनर्जी) चुनावी हलफनामे में, उनके खिलाफ लंबित आपराधिक मामलों का कोई उल्लेख नहीं है। उनके खिलाफ असम में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं और उन्होंने अपने हलफनामे में इसका खुलासा नहीं किया है। इसलिए मैं ममता बनर्जी द्वारा दाखिल नामांकन/घोषणा पर आपत्ति जताने का अनुरोध करता हूं। मैं चुनाव आयोग से नामांकन को अमान्य घोषित करने और उनकी उम्मीदवारी रद्द करने की अपील करता हूं।”
 
इसके अलावा, 30 सितंबर को दो अन्य सीटों समसेरगंज और जंगीपुर में मतदान होगा। इन उपचुनावों की गिनती 3 अक्टूबर को होगी ममता को अपना मुख्यमंत्री पद बरकरार रखने के लिए 5 नवंबर तक निर्वाचित होना है।

न्यूज़ हेल्पलाइन

Share this story