Samachar Nama
×

Haridwar बालकृष्ण बोले, स्त्रियों को शास्त्रों के ज्ञान से वंचित करना ठीक नहीं

Haridwar बालकृष्ण बोले, स्त्रियों को शास्त्रों के ज्ञान से वंचित करना ठीक नहीं

उत्तराखंड न्यूज़ डेस्क !!! पतंजलि योगपीठ में अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद के दो दिवसीय ध्यान शिविर का उद्घाटन करते हुए आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि आज महिलाओं को वेदों और शास्त्रों के ज्ञान से वंचित किया जा रहा है, यह सही नहीं है। इस वजह से समाज में धर्म की हानि हो रही है। आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि परिवारों में जो आचरण और कर्मकांड समाप्त हो रहे हैं, उसके लिए हम स्वयं दोषी हैं। आज पूरी दुनिया को धर्म की चिंता है, इसलिए वह भारत की ओर देखता है। तब उनका ध्यान हमारे शास्त्रों की ओर जाता है। शास्त्रों का ध्यान आते ही ब्राह्मणों का ध्यान स्वयं आ जाता है। ब्राह्मणों के अस्तित्व को नकारा नहीं जा सकता, क्योंकि हमारे पूर्वजों ने इतनी मजबूत नींव रखी है कि आज हमें केवल इस विरासत की देखभाल करनी है। उन्होंने कहा कि आज धर्म के बारे में कम जानकारी रखने वाले लोग ब्राह्मणों और ब्राह्मणवाद को गाली दे रहे हैं। यह बहुत ही भयावह स्थिति है। इस स्थिति से निपटने के लिए एकजुट और संगठित होने की जरूरत है। अगर आज आपका पार्टनर खतरे में है तो आप भी खतरे में हैं। आज वे कथावाचक बन गए हैं, जिन्हें शास्त्रों का ज्ञान भी नहीं है। आज ज्योतिष और वास्तु शास्त्र एक बहुत बड़ा विज्ञान है, लेकिन कुछ स्वार्थी अज्ञानता के कारण इस शास्त्र को बदनाम किया जा रहा है, जिससे धर्म और शास्त्रों को नुकसान हो रहा है। कहा कि हम शास्त्रों से जीवित हैं, शास्त्र हमसे नहीं हैं। परिषद के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष पंडित प्रमोद मिश्रा ने कहा कि अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद की शुरुआत 10 साल पहले बनारस के मणिकर्णिका घाट पर हुई थी, जिसका उद्देश्य पूरे विश्व में ब्राह्मणों की रक्षा करना था। यह एक गैर-राजनीतिक संगठन है। पतंजलि गुरुकुलम की तरह यहाँ भी बच्चों को संस्कृत, वेद और संस्कारों से दीक्षा दी जाती है। यहां आपसी मतभेदों को दूर कर ब्राह्मणों को एकजुट कर एक मजबूत संगठन बनाने के उद्देश्य से काम किया जा रहा है। कार्यक्रम में परिषद के राष्ट्रीय संयोजक शिक्षा प्रकोष्ठ पंडित प्रवीण मिश्रा, मुख्य न्यासी श्याम शुक्ला, प्रदेश अध्यक्ष उत्तराखंड मनोज गौतम आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

हरिद्वार न्यूज़ डेस्क !!! 

Share this story