Samachar Nama
×

वीडियों में जानें उन्नाव रोड हादसे की कहानी प्रत्यक्षदर्शियों-घायलों की जुबानी

यूपी के उन्नाव में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर बस और टैंकर की टक्कर में 18 लोगों की मौत हो गई और 30 लोग घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है. हादसे के बाद अस्पताल के बाहर शव बिखरे पड़े थे.......
dsafsd

उत्तर प्रदेश न्यूज डेस्क !! यूपी के उन्नाव में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर बस और टैंकर की टक्कर में 18 लोगों की मौत हो गई और 30 लोग घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है. हादसे के बाद अस्पताल के बाहर शव बिखरे पड़े थे.


हादसे के एक चश्मदीद ने बताया कि मैं खेत की ओर जा रहा था तभी मैंने जोरदार धमाके की आवाज सुनी. जब हम मौके पर पहुंचे तो देखा कि सड़क पर लाशें बिखरी हुई थीं. इसके बाद अन्य लोग भी आ गए और हादसे की सूचना पुलिस को दी। घायलों की मदद कर रहे थे, मदद कर रहे थे. हादसा देख कर दिल कांप उठा. लोग बीच सड़क पर मरे पड़े थे.

हादसे को लेकर एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है

हादसे के बाद कलेक्टर गौरांग राठी ने कहा कि हादसे को लेकर हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं. सभी घायलों को बांगरमऊ सामुदायिक केंद्र में भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से घायलों को लखनऊ ट्रॉमा सेंटर रेफर किया जा रहा है। हादसे को लेकर ये हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं. 0515-2970767, 9651432703, 9454417447, 8887713617, 8081211289 बस में सफर कर रहे यात्री मोहम्मद उर्स ने बताया कि मैं शिवहर का रहने वाला हूं. हादसे के वक्त मैं सो रहा था. तभी एक तेज़ आवाज़ सुनाई दी. ऐसा लगा जैसे यहाँ भूचाल आ गया हो। मैं बस के दूसरी तरफ बैठा था. मैं इस दुर्घटना में बाल-बाल बच गया. मेरा एक हाथ काट दिया गया है.

पुलिस ने हादसे की ये दो वजहें बताईं

पुलिस के मुताबिक हादसे की वजह ओवरटेकिंग हो सकती है. दूध का टैंकर धीरे-धीरे आगरा की ओर जा रहा था। इसी दौरान पीछे से तेज गति से एक बस आई। पुलिस के मुताबिक उस वक्त दो स्थितियां पैदा हो सकती हैं. सबसे पहले बस ड्राइवर को झपकी आ गई और कंटेनर से टकरा गई. दूसरी स्थिति में बस चालक ने कंटेनर को ओवरटेक करने का प्रयास किया, इस दौरान कंटेनर चालक ने भी वाहन को उसी दिशा में मोड़ दिया.

Share this story