×

Allahabad  दो साल पहले मैनपुरी के स्कूल में फंदे पर लटकी मिली थी लड़की

1234
 उत्तर प्रदेश न्यूज़ डेस्क !!! हाईकोर्ट ने दो साल पुराने एक मामले में यूपी के डीजीपी मुकुल गोयल को तलब किया है। डीजीपी हाईकोर्ट पहुंच गए हैं।सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि,वे केस की सुनवाई में शामिल हैं। पूरा मामला मैनपुरी जिले से जुड़ा है। यहां साल 2019 में 16 वर्षीय एक लड़की की फांसी के फंदे पर लटकी मिली थी। पुलिस ने इसे सुसाइड करार दिया था। जबकि परिजनों ने हत्या की आशंका जताई थी। पूरी विवेचना में गड़बड़ी मिली थी। हाईकोर्ट ने डीजीपी मुकुल गोयल को व्यक्तिगत रूप से उपस्थित रहने का आदेश दिया था।

2019 में 16 वर्षीय एक लड़की अपने स्कूल में फांसी पर लटकती पाई गई थी।मीडिया रिपेार्ट के अनुसार ,पुलिस ने शुरू में दावा किया था कि यह आत्महत्या का मामला है। दूसरी ओर उसकी मां ने आरोप लगाया था कि उसे परेशान किया गया, पीटा गया और जब वह मर गई तो उसे फंसी के फंदे पर लटका दिया गया। बाद में इस मामले की एसआईटी ने जांच की थी। 24 अगस्त 2021 को न्यायालय के निर्देश के क्रम में एसआईटी के सदस्य केस डायरी लेकर हाईकोर्ट के सामने उपस्थित हुए थे।सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि,एक्टिंग चीफ जस्टिस मुनीश्वर नाथ भंडारी और जस्टिस अनिल कुमार ओझा की खंडपीठ ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा था कि घटना की एफआईआर 16 सितंबर 2019 को दर्ज की गई थी। हालांकि आरोपी से पूछताछ तुरंत या उचित समय के भीतर नहीं की गईआरोपी से पूछताछ घटना के तीन माह बाद की गई। कोर्ट में मौजूद जांच अधिकारी आरोपी से पूछताछ में हुई देरी के बारे में कुछ नहीं बता सके थे। कोर्ट ने टिप्पणी की थी कि यह अंतराल आरोपी के खिलाफ गंभीर आरोपों के बावजूद हुआ, जोकि गंभीर चूक है।

पुलिस ने जांच में की थी गंभीर लापरवाही
पीठ को यह भी बताया गया था कि मैनपुरी के तत्कालीन पुलिस अधीक्षक अनुशासनात्मक जांच का सामना कर रहे थे, जो उनकी सेवानिवृत्ति से पहले पूरी नहीं हुई थी। अदालत ने कहा था कि यह जांच में की गई उनकी कमी के कारण है, जहां रिपोर्ट में लड़की के प्राइवेट पार्ट में वीर्य और अंडरगारमेंट्स में शुक्राणु दिखाते हुए रिपोर्ट आई थी। कोर्ट ने इस मामले में पुलिस की गंभीर लापरवाही मानते हुए प्रदेश के डीजीपी को तलब किया है। आज इस मामले की सुनवाई हो रहीहै।

Share this story