×

noida ईएसआइसी अस्पताल में सर्वर ठप होने से मरीज हुए परेशान

बेसमेंट में जलभराव से वाहन पार्किंग में परेशानी : ईएसआइसी अस्पताल के वाहन पार्किंग के लिए बने बेसमेंट में सोमवार को बारिश के बाद जलभराव हो गया। इससे वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। चालकों ने वाहन को अस्पताल के बाहर पार्क किया, जिससे जाम की स्थिति बनी रही।  ------  अस्पताल का निरीक्षण कर सकते हैं केंद्रीय श्रम मंत्री  ईएसआइसी अस्पताल का निरीक्षण करने के लिए केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव बृहस्पतिवार को अस्पताल आ सकते हैं। अस्पताल प्रबंधन की ओर से इसकी तैयारियां की जा रही है। चिकित्सा निदेशक डा. बलराज का कहना है कि केंद्रीय मंत्री अस्पताल का निरीक्षण कर सकते हैं।


उत्तर प्रदेश न्यूज़ डेस्क!!!सेक्टर-24 स्थित कर्मचारी राज्य बीमा निगम अस्पताल में सोमवार को इलाज से पूर्व पंजीकरण के लिए जरूरी सर्वर ठप रहने से मरीज परेशान रहे। बताया जा रहा है कि,दोपहर 12 बजे से एक बजे के बीच सर्वर ठप रहने से कई मरीजों को वापस लौटना पड़ा। कई मरीज सर्वर ठीक होने का इंतजार करते रहे।अस्पताल की ओपीडी में 1500 से अधिक लोग प्रतिदिन इलाज के लिए पहुंचते हैं।

पंजीकरण के लिए नौ काउंटर हैं। सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि, पंजीकरण के लिए जरूरी सर्वर बीच-बीच में खराब होता रहा। सप्ताह का पहला दिन होने के चलते बाकी दिनों की अपेक्षा अधिक भीड़ रही। सेक्टर-63 से आई सुचित्रा ने बताया कि सर्वर ठप होने से पंजीकरण पर्ची बनवाने के लिए दो घंटे का इंतजार करना पड़ा।आपकी जानकारी के लिए बता दें कि,मेडिसिन ओपीडी में डाक्टर के कक्ष से नदारद रहने पर मरीजों ने हंगामा किया। 

गायनी ओपीडी में महिलाओं को इलाज के लिए घंटों इंतजार करना पड़ाबेसमेंट में जलभराव से वाहन पार्किंग में परेशानी : ईएसआइसी अस्पताल के वाहन पार्किंग के लिए बने बेसमेंट में सोमवार को बारिश के बाद जलभराव हो गया। इससे वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि,चालकों ने वाहन को अस्पताल के बाहर पार्क किया, जिससे जाम की स्थिति बनी रही।ईएसआइसी अस्पताल का निरीक्षण करने के लिए केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव बृहस्पतिवार को अस्पताल आ सकते हैं।इसके आगे  बताया जा रहा है कि,अस्पताल प्रबंधन की ओर से इसकी तैयारियां की जा रही है। मीडिया रिपेार्ट के अनुसार ,चिकित्सा निदेशक डा. बलराज का कहना है कि केंद्रीय मंत्री अस्पताल का निरीक्षण कर सकते हैं।

Share this story