×

MEERUT  विधानसभा चुनाव से पहले इंस्पेक्टरों में भारी फेरबदल, अकेले मेरठ से34 इंस्पेक्टर जिले से बाहर भेजे

1234
उत्तर प्रदेश न्यूज़ डेस्क !!!

आगामी विधानसभा चुनाव से पहले मेरठ रेंज में 115 इंस्पेक्टरों के तबादले किए गए हैं। अपर पुलिस महानिदेशक स्थापना के आदेश पर मेरठ रेंज में यह ट्रांसफर किए गए हैं। इनमें अधिकांश इंस्पेक्टरों का जिले में समय पूरा हो चुका है। सबसे ज्याादा मेरठ जिले में तैनात 34 इंस्पेक्टरों को दूसरे जिलों में भेजा गया है। मेरठ रेंज में मेरठ, बुलंदशहर, गाजियाबाद, हापुड़ और बागपत जिले हैं। पहले गौतमबुद्धनगर भी मेरठ रेंज में आता था, लेकिन नोएडा में पुलिस कमिश्नेट लागू होने के बाद नोएडा, मेरठ रेंज से बाहर हो गया।

मेरठ से 34 इंस्पेक्टर बाहर भेजे गए

मेरठ जिले में लंबे समय से तैनात 34 इंस्पेक्टरों को मेरठ जिले से बाहर भेजा गया है। मेरठ से जिन इंस्पेक्टरों के ट्रांसफर हुए हैं वह मेरठ में लंबे समय से थाना प्रभारी के पद पर तैनात रहे। मेरठ से बागपत, गाजियाबाद, हापुड़, बुलंदशहर जिलों में इंस्पेक्टरों को भेजा गया है।

इन जिलों से हुए ट्रांसफर

आईजी मेरठ प्रवीण कुमार के अनुसार हापुड़ जिले से 12 इंस्पेक्टरों को जिले से बाहर भेजा गया है। बागपत से 8 इंस्पेक्टरों को बाहर भेजा गया है। बुलंदशहर से 30 इंस्पेक्टरों को बाहर भेजा गया है। गाजियाबाद से 31 और मेरठ से 34 इंस्पेक्टर बाहर भेजे गए हैं।

वेस्ट यूपी में गाजियाबाद जिला पहली पसंद

वेस्ट यूपी में इंसपेक्टरों के लिए गाजियाबाद बाद पहली पसंद है। गाजियाबाद का देहात क्षेत्र भी कम है। इससे पहले नोएडा इंस्पेक्टरों की पहली पसंद थी, लेकिन जब से पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू हुई है। इंस्पेक्टरों के लिए गाजियाबाद पहली पसंद है।

मेरठ से जााने वालों में राहत की सांस

मेरठ से जिन 34 इंस्पेक्टरों के तबादले जिले से बाहर हुए हैं। इन्होंने राहत की सांस ली है। मेरठ एसएसपी प्रभाकर चौधरी लगातार भ्रष्टाचार को लेकर पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई कर रहे हैं। निलंबन के साथ इंस्पेक्टर व दरोगा और सिपाहियों पर एफआईआर भी दर्ज करा रहे हैं। ऐसे में पुलिस विभाग में यह भी चर्चा है की मेरठ से ट्रांसफर होकर जान तो बची।

Share this story