×

GAZIABAD  मच्छर के लार्वा के खात्‍मे के लिए गम्बूजिया मछली का सहारा

Angry cow attacked firefighter, see what happened next in the video
उत्तर प्रदेश न्यूज़  डेस्क !!!कोरोना महामारी के बीच स्वास्थ्य विभाग ने डेंगू और मलेरिया के मच्छरों को मारने के लिए अतिसंवेदशील क्षेत्रों के तालाबों में गम्बूजिया मछलियां डालने की योजना बनाई है।खबरों से प्राप्त जानकर के अनुसार बताया जा रहा है कि एनसीडीसी दिल्ली की अनुमति मिलने के बाद जिला मलेरिया विभाग पांच हजार गम्बूजिया मछली खरीदने की तैयारी कर रहा है। मत्स्य विभाग की मंजूरी मिलते ही जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के तालाबों में मछली छोड़ी जाएंगी। विभाग का दावा है कि यह मछली डेंगू और मलेरिया के लार्वा को खाकर नष्ट कर देती है।

पहले चरण में मलेरिया और डेंगू प्रभावित जिले के अतिसंवेदनशील 25 गांवों के तालाबों को चिह्न्ति किया गया है। दूसरे चरण में शहरी क्षेत्र के कुछ गांवों के तालाबों में भी मछलियां छोड़ने की योजना है।आपकी जानकारी के लिए बता दे की,  बिहार और दिल्ली में मच्छर एवं लार्वा खत्म करने के लिए इन मछलियों का प्रयोग सफल रहा है। उन्होंने बताया कि एनसीडीसी की टीम द्वारा जिले में किए गए निरीक्षण के बाद मछलियों के उपयोग की अनुमति दी गई है। जिला मलेरिया अधिकारी डा. ज्ञानेंद्र कुमार मिश्र ने बताया कि ठहरे पानी और तालाबों में एंटी लार्वा का छिड़काव कई बार नहीं हो पाता है। ऐसे में गम्बूजिया मछली तालाबों में छोड़ने की योजना है। उम्‍मीद है कि इससे मच्‍छरों के लार्वा आसानी से खत्‍म किया जा सकता है।

Ads by Jagran.TV

Share this story