Samachar Nama
×

बीकानेर को बजट में मिली कॉलेज से मिल्क प्रोसेसिंग प्लांट तक ये बड़ी सौगातें, वीडियो में जाने आखिर कितनी बदलेगी आपकी कमाई 

भजनलाल सरकार क्र पहले पूर्ण बजट में बीकानेर को 2 सोलर पार्क, इंजीनियर कॉलेज, ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे और मिल्क प्रोसेसिंग प्लांट की सौगातें मिली हैं..........
hgf

राजस्थान न्यूज़ डेस्क !!! भजनलाल सरकार क्र पहले पूर्ण बजट में बीकानेर को 2 सोलर पार्क, इंजीनियर कॉलेज, ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे और मिल्क प्रोसेसिंग प्लांट की सौगातें मिली हैं। इसके साथ ही बीकानेर को गंदे पानी के समाधान के लिए 100 करोड़ के प्लांट, पेयजल योजना पुनर्गठन , सड़क निर्माण, रेलवे ओवरब्रिज, सौंदर्यीकरण के साथ कई पेयजल और सिंचाई की सौगातें मिली हैं।  

वित्त मंत्री दीया कुमारी ने बजट भाषण की शुरुआत में ही बीकानेर के पूगल और छत्तरगढ़ में सोलर पार्क देने की घोषणा की है. सोलर पार्क लगने से न सिर्फ क्षेत्र में बिजली संकट कम होगा, बल्कि किसानों को भी फायदा होगा. अभी तक बारानी क्षेत्रों में ही सोलर प्लांट लगाए जा रहे थे, लेकिन इस बार सरकार ने पूगल और छत्तरगढ़ जैसे नहरी क्षेत्रों में प्लांट लगाने की घोषणा की है। बीकानेर में दुग्ध प्लांट लगाया जायेगा। इसके साथ ही पॉलिटेक्निक कॉलेज की सीटें बढ़ाई जाएंगी. बीकानेर शहर को गंदे पानी से मुक्ति दिलाने के लिए 100 करोड़ रुपए की लागत से कार्य किया जाएगा।

जिला अस्पताल, जिसे सैटेलाइट भी कहा जाता है, जस्सूसर गेट, बीकानेर में स्थित है। इसके प्रमोशन की घोषणा कर दी गई है. ऐसे में यह अस्पताल सौ बेड से लेकर दो सौ या तीन सौ बेड से भी ज्यादा का हो सकता है. यहां से तीन सौ बेड की पेशकश की गयी. अस्पताल के युवा अधीक्षक डाॅ. सुनील हर्ष ने कहा कि अस्पताल के क्रमोन्नत होने की घोषणा हो चुकी है, ऐसे में परकोटे के लोगों को बेहतर सुविधाएं मिलना तय है.

इंजीनियरिंग कॉलेज विकसित किया जायेगा

राज्य में भरतपुर, बीकानेर और अजमेर के इंजीनियरिंग कॉलेजों को राजस्थान इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के रूप में विकसित किया जाएगा। इस पर 300 करोड़ रुपये खर्च होंगे. इससे बीकानेर इंजीनियरिंग कॉलेज के विद्यार्थियों को फायदा होगा। बीकानेर में वृक्षारोपण पर विशेष जोर दिया जायेगा। राज्य सरकार ने बजट में घोषणा की कि बीकानेर सहित कई जिलों में दस करोड़ रुपए की लागत से नर्सरी बनाई जाएंगी. उन्होंने कहा कि पिछली सरकार की लापरवाही के कारण हर घर नल पहुंचाने की योजना में राज्य पिछड़ गया. जलजीवन मिशन में 25 हजार घरों तक पानी पहुंचाया जाएगा. 5046 गांवों को सतही जल से पानी की आपूर्ति की जायेगी. नई पेयजल परियोजनाएं शुरू होंगी. राज्य में स्थानीय स्तर पर प्रत्येक विधानसभा क्षेत्रों में 20-20 हैंडपंप और 10-10 ट्यूबवेल के निर्माण की घोषणा की गई. 350 करोड़ की लागत से स्कूलों में लाइब्रेरी और शौचालय समेत बुनियादी सुविधाएं विकसित की जाएंगी.

बजट में बीकानेर के लिए ये घोषणाएं

खाजूवाला-बीकानेर पेयजल योजना पुनर्गठन शहरी जल योजना के तहत 25 करोड़
जल योजना पूगल (खाजूवाला)-बीकानेर को धोधा नहर उपशाखा से जोड़ना एवं पुनर्गठन कार्य- 4 करोड़ 50 लाख
लूणकरणसर में 24 करोड़ रुपए की लागत से 16 किमी सड़क का निर्माण
132 केवी जीएसएस के निर्माण कार्य में गुसाईसर बड़ा एवं ठुकरियासर (डूंगरगढ़), केहरली (कोलायत), महाजन (लूणकरणसर), दंतौर (खाजूवाला) शामिल हैं।
बीकानेर के श्रीडूंगरगढ़ में 46 करोड़ 33 लाख की लागत से रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण कराया जायेगा।
लूणकरनसर एवं नागणेचीजी माता मंदिर के पास ओवरब्रिज का निर्माण किया जाएगा।
परसनेऊ-बिग्गा स्टेशन पर ओवरब्रिज का निर्माण किया जाएगा।
बीकानेर शहर में एकत्रित गंदे पानी के स्थाई समाधान के लिए 100 करोड़ रुपए
कपिल सरोवर (कोलायत)-बीकानेर का सौंदर्यीकरण किया जायेगा।
राज्य अभिलेखागार-बीकानेर में स्थित लगभग 40 करोड़ ऐतिहासिक लिपियों का चरणबद्ध तरीके से डिजिटलीकरण किया जाएगा।
बीकानेर में आईएटी एवं 3डी तकनीक में नवाचार विकसित किये जायेंगे।
बीकानेर में पॉलिटेक्निक कॉलेज में सीटें बढ़ाई जाएंगी।
उप जिला अस्पतालों में लूणकरणसर, खाजूवाला, बज्जू (कोलायत) को क्रमोन्नत किया गया है।
सहायक अभियंता (विद्युत) कार्यालय, महाजन (लूनकरनसर)-बीकानेर
बीकानेर में अतिरिक्त निदेशक (खान) का कार्यालय होगा।
नापासर-बीकानेर को नगरपालिका इकाई में क्रमोन्नत किया गया है।
बीकानेर में दुग्ध प्रसंस्करण संयंत्र स्थापित किया जायेगा।

 

Share this story

Tags