×

AJMER  कोरेाना पर राजनीति, केंद्रीय मंत्री बोले-राजस्थान सरकार छिपा रही ऑक्सीजन आवंटन के आंकड़े

This 5G phone will be able to run even while getting wet in the rain, the battery will last for 6 days on a single charge, know the price and full specification

राजस्थान न्यूज़ डेस्क !!! नेता इसमें भी राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे । CM गहलोत से लेकर मंत्रियों तक ने कई बार आरोप लगाया कि केंद्र सरकार राजस्थान के मुकाबले भाजपा शासित राज्यों को अधिक ऑक्सीजन, रेमडेसिविर सहित अन्य दवाईयां आवंटित कर रही है, जबकि यहां संक्रमण ज्यादा है। दबाव की राजनीति के तहत ही राज्य के तीन वरिष्ठ मंत्री मंगलवार को दिल्ली पहुंचे । दो दिन में वे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवद्र्धन, परिवहन मंत्री नितीन गड़करी, रेल मंत्री पियूष गोयल और रसायन व उर्वरक राज्यमंत्री मनसुख मंडाविया से मुलाकात पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन, रेमडेसिविर एवं टोसिलिजुमेब उपलब्ध कराने के साथ ही परिवहन के साधन बढ़ाने की मांग करेंगे। तीनों मंत्रियों की मंगलवार को मंडाविया से मुलाकात हो गई ।

केंद्रीय राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि राजस्थान के मुख्यमंंत्री से लेकर हर मंत्री तक केंद्र सरकार पर कम ऑक्सीजन, रेमडेसिविर देने का आरोप लगा रहे हैं, लेकिन सच्चाई यह है कि ऑक्सीजन का कोटा 15 अप्रैल के बाद लगातार बढ़ाया गया है । खबरों से प्राप्त जानकर के अनुसार बताया जा रहा है कि,कोरोना महामारी से आम आदमी परेशान है । आपकी जानकारी के लिए बता दे की, राज्य सरकार सही आंकड़े नहीं बता रही है। राजस्थान का 265 टन ऑक्सीजन का कोटा है।  केंद्र की ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता, राज्यों की मांग, पाइपलाइन से ऑक्सीजन सप्लाई की सुविधा वाले अस्पतालों की संख्या के पैरामीटर के आधार पर राज्यों को आक्सीजन आवंटित करने का फार्मूला बनाया है। कितने अस्पताल ऑक्सीजन की पाइपलाइन से इक्यूप्ड है, यह भी एक पैरामीटर है। 

Share this story