×

MUNGER 35 महीने बाद सोझी घाट पर हुई मां गंगा की आरती

Angry cow attacked firefighter, see what happened next in the video

बिहार न्यूज़ डेस्क !!!  दो दिसंबर 2019 को गंगा की आरती हुई थी। शुक्रवार को नमामि गंगे तथा आजादी का अमृत महोत्सव के तहत सोझी घाट पर दो दिवसीय कार्यक्रम की शुरुआत हुई। मौके पर डीएम नवीन कुमार, एसपी जगुनाथ रेड्‌डी जलारेड्‌डी, विधायक प्रणव कुमार, एडीएम विद्यानंद सिंह, डीडीसी संजय कुमार, एसडीओ सदर खुशबू गुप्ता, मेयर रुमा राज, निदेशक डीआरडीए आनंद उत्सव सहित अन्य लोग मौजूद थे। खबरों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि कोरोना काल में बंद हुई गंगा आरती शुक्रवार को करीब 35 माह बाद सोझी घाट पर हुई। मौके पर डीएम ने कहा कि गंगा ही मुंगेर वासियों को पानी उपलब्ध कराती है। यहां लोग स्न्नान-ध्यान आदि कर दैनिक कार्य की शुरुआत करते हैं।

लोगों से अपील किया कि गंगा में किसी प्रकार की कूड़ा-कचरा न डालें तथा गंगा को साफ रखने में अपनी सहभागिता तय करें। इस कार्यक्रम के तहत नगर निगम के द्वारा मुहल्लों में जागरूकता कार्यक्रम चलाया जाएगा। आपकी जानकारी के लिए बता दे की , संध्या के समय महाआरती के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसकी शुरुआत पंडित बलराम दास मिश्र की टीम के द्वारा प्रस्तुत गणेश वंदना घर में पधारों गजानंद ने की। इसे प्रियंका प्रकाश, इकरा खान, अपर्णा कुमारी, प्राची, दीपशिखा ने प्रस्तुत किया।  इसी टीम ने नीमियां के डाली मैया झूलेली झुलनवां, छठ गीत आदि प्रस्तुत किया गया। भारत सरकार द्वारा आरंभ किए गए गंगा स्वच्छता अभियान के तहत यह कार्यक्रम आयोजित किया गया है। उत्तर प्रदेश से पहुंचे अखिलेश तिवारी ने बांसुरी की धुन प्रस्तुत किया। जबकि बाल कलाकर तुष्यम गर्ग के द्वारा केसीओ वादन प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में हारमोनियम पर ब्रजभूषण मिश्र तथा तबला पर पंडित बलराम दास मिश्र तथा नाल पर कैलाश कुमार संगत कर रहे थे।

Share this story