×

Jabalpur  नई शिक्षा नीति से उच्च शिक्षा का होगा विस्तार – उच्च शिक्षा मंत्री डॉ.यादव

dsc
मध्यप्रदेश डेस्क।। । नई शिक्षा नीति से उच्च शिक्षा को नए आयाम मिलेंगे। नई शिक्षा नीति लागू करने करने वाला मध्यप्रदेश अग्रणी राज्य है। भारत की संस्कृति और सभ्यता की पूरे विश्व में पहचान है। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव सागर जिले के खुरई विकासखंड के अंतर्गत नगर पंचायत बांदरी में 6 करोड़ 18 लाख की लागत से बनने वाले महाविद्यालय भवन के भूमि-पूजन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

मंत्री यादव ने कहा कि बांदरी महाविद्यालय में वाणिज्य एवं विज्ञान विषय शुरू होंगे। उन्होंने कहा कि अब नई शिक्षा नीति से 131 विषय में से कोई भी विषय महाविद्यालय शुरू कर सकता है। साथ ही महाविद्यालय में शीघ्र ही ऑडिटोरियम, ओपन जिम, खेल मैदान और वाहन स्टेंड भी तैयार किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति से ही छात्र-छात्राएं डिप्लोमा एवं डिग्री एक साथ कर सकते हैं। नई शिक्षा नीति का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के लिए शीघ्र ही महाविद्यालय स्तरों पर कार्यशाला आयोजित की जाएगी जिसमें विद्वान शिक्षकों द्वारा नई शिक्षा नीति के बारे में विस्तार से चर्चा होगी ।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि खुरई विधानसभा क्षेत्र में अब पूर्ण विकास होने पर ही विकास का पहिया रुकेगा। उन्होंने कहा कि 6 करोड़ 18 लाख की लागत से बनने वाला महाविद्यालय भवन गुणवत्तापूर्ण, अत्याधुनिक तरीके से बनेगा। इसके बन जाने से क्षेत्र के छात्र -छात्राओं को अन्यत्र नहीं जाना पड़ेगा। बांदरी में ही 3 हजार से अधिक आवास तैयार कराए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक करोड़ 52 लाख की मशीनरी भी बांदरी नगर परिषद को प्रदान की गई है। शीघ्र ही नगर परिषद में कर्मचारियों की नियुक्ति भी होगी। उन्होंने बांदरी को शीघ्र ही तहसील का दर्जा दिलाने की बात भी कही। मंत्री सिंह ने कहा कि वन विभाग के माध्यम से 25 एकड़ जमीन हस्तांतरित कर विकास के अन्य कार्य कराए जाएंगे।

सांसद राज बहादुर सिंह ठाकुर ने कहा कि बांदरी में महाविद्यालय आ जाने से अब बेटियाँ शिक्षा से वंचित नहीं होंगी। विधायक महेश राय ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का शुभारंभ सरस्वती-पूजन एवं कन्या-पूजन के साथ किया गया। 

Share this story