×

Devghar ई-बस सेवा के लिए प्रजेंटेशन देने पहुंची यूपी की कंपनी क्रेडिबल

देवगुरु धर्म की शरण में जाएंगे तो देवता भी दौड़े आएंगे
, झारखण्ड न्यूज़ डेस्क इलेक्ट्रिक बसाें के परिचालन काे लेकर नगर निगम में ब्लूप्रिंट तैयार करने की कार्रवाई शुरू हाे गई है। निगम के बुलावे पर नगर विकास विभाग से एक कंसल्टेंट एजेंसी क्रेडिबल प्राइवेट लिमिटेड पहुंची। एजेंसी ने नगर आयुक्त के समक्ष अपना प्रजेंटेशन दियाबसाें के रूट और उसकी डीपीआर की प्रक्रिया भी निगम ने शुरू कर दी है। ।

फाइनेंशियल बिड में भी हिस्सा लिया। निगम के द्वारा जुडकाे में इनपैनल छह कंसल्टेंट एजेंसियाें काे इस सेवा के डीपीआर के लिए बुलाया गया था। सभी एजेंसी ट्रांसपाेर्ट सेक्टर में काम करती है। निगम के बुलावे के बाद भी अभी केवल एक एजेंसी ही पहुंची है। निगम अन्य एजेंसियाें के आने का इंतजार कर रहा है। सिंगल एजेंसी के आने के कारण अभी तक उसका फाइनेंशियल बिड नहीं खाेला गया है।

8 साल का है प्रोजेक्ट, गांवों तक बस चलाने की योजना प्रजेंटेशन के दाैरान क्रेडिबल के महाप्रबंधक करण कुमार ने नगर आयुक्त काे बताया कि उनकी एजेंसी यूपी के कई शहरों में ट्रांसपाेर्ट सेक्टर में काफी काम किया है। एनएचएआई के कई प्राेजेक्ट की डीपीआर भी बना चुकी है। नगर आयुक्त ने निगम क्षेत्र के क्षेत्रफल और यहां चलने वाले छाेटे-बड़े वाहनाें की जानकारी भी मांगी। एजेंसी द्वारा सर्वे के बाद इसकी जानकारी देने की बात कही।

कंसल्टेंट एजेंसी के सर्वे के बाद तय होगा बसों का रूट इलेक्ट्रिक बसाें के रूट का निर्धारण सर्वे के आधार पर किया जाएगा। निगम ने इन बसाें काे गांव और शहर में चलाने की याेजना तैयार की है। हर क्षेत्र के लाेगाें काे ध्यान में रख कर रूट का निर्धारण किया जाएगा। धनबाद से चिरकुंडा भाया पंचेत, धनबाद से बरवाअड्डा हाेते हुए ताेपचांची से गाेमाे, धनबाद से सिंदरी, बलियापुर रूट पर बस चलाने की याेजना है। धनबाद-कतरास, धनबाद-महुदा रूट पर भी बसें चलेंगी।

डीपीआर के लिए दूसरी एजेंसी के आने का इंतजार है। एक सप्ताह तक इंतजार करेंगे। दूसरी एजेंसी के नहीं आने पर इसी एजेंसी काे कार्यादेश देने पर विचार संभव है। -सत्येंद्र कुमार, नगर आयुक्त

Share this story