×

JAIPUR चिरंजीवी बीमा योजना में शिकायतों के निस्तारण की दाे माह से मीटिंग ही नहीं

Angry cow attacked firefighter, see what happened next in the video
राजस्थान न्यूज़ डेस्क !!! शिकायतों का निस्तारण सीएमएचओं व कलेक्ट्रेट के अधिकारी मिलकर पीडितों व अस्पताल संचालकों के पक्षों काे सुनकर करते हैं।आपकी जानकारी के लिए बता दे की, कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा ने गत 18 अगस्त काे कलेक्ट्रेट में मीटिंग बुलाई थी। मीटिंग में जयपुर के दाेनाें सीएमएचओं नहीं पहुंचने इसके बाद कलेक्टर नेहरा काे मीटिंग रद्द करनी पडी। मीटिंग में आए 24 प्राइवेट अस्पतालों के प्रतिनिधि और शिकायत करने वाले 30 पीडित लाेग इंतजार कर बिना किसी कारवाई के वापस लाैट गए थे।कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा का कहना है कि योजना में प्राइवेट अस्पतालों के इलाज में लापरवाही बरतने की शिकायतों का निस्तारण करने के लिए बैठक बुलाई जाती है। शिकायतों के निस्तारण में सीएमएचओं काे जांच भी सौंपी जाती है। खबरों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि, CM चिरंजीवी योजना में शहर के 24 प्राइवेट अस्पतालों की इलाज में लापरवाही बरतने काे लेकर 80 से अधिक शिकायतें है, लेकिन दाे माह के बाद भी शिकायतों के निस्तारण काे लेकर सीएमएचओं व जिला प्रशासन की मीटिंग ही नहीं हुई। इसलिए दाेनाें सीएमएचओं का रहना आवश्यक हाेता है। कलेक्टर नेहरा का कहना है कि पंचायती राज चुनावों से अब निवृत हुए है। दाेनाें सीएमएचओं काे मीटिंग के लिए कहा गया है। नेहरा ने बताया कि बैठक से 10 दिन पहले सूचना दी जाती है ताकि दाेनाें सीएमएचओं का मीटिंग में आना सुनिश्चत हाे सके। मीटिंग में जिले भर से पीडित लाेग आते है उनकी सुनवाई हाेना जरूरी है।

Share this story