Samachar Nama
×

केजरीवाल ने आप कार्यकर्ताओं से कहा, सुनिश्चित करें लोकसभा चुनाव में दिल्ली में भाजपा को कोई सीट नहीं मिले

नई दिल्ली, 17 नवंबर (आईएएनएस)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रीय राजधानी में आम आदमी पार्टी (आप) को नहीं हरा सकते हैं और इसीलिए वे कथित शराब घोटाले जैसे झूठे और फर्जी मामलों के जरिए आप के खिलाफ साजिश रच रहे हैं।
केजरीवाल ने आप कार्यकर्ताओं से कहा, सुनिश्चित करें लोकसभा चुनाव में दिल्ली में भाजपा को कोई सीट नहीं मिले

नई दिल्ली, 17 नवंबर (आईएएनएस)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रीय राजधानी में आम आदमी पार्टी (आप) को नहीं हरा सकते हैं और इसीलिए वे कथित शराब घोटाले जैसे झूठे और फर्जी मामलों के जरिए आप के खिलाफ साजिश रच रहे हैं।

सीएम केजरीवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि भले ही उन्हें जेल में डाल दिया जाए, पार्टी विजयी होगी।

उन्होंने आप कार्यकर्ताओं से यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया कि अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा दिल्ली में एक भी सीट नहीं जीते।

दरअसल, दिल्ली में लोकसभा की सात सीटें हैं, जो 2019 के चुनाव में सभी भाजपा ने जीती थी।

सीएम केजरीवाल ने कहा, ''दुनिया की किसी भी पार्टी ने इतने कम समय में आप जैसी इतनी सफलता हासिल नहीं की है। मुझे लगता है कि हमारी पार्टी का नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज होना चाहिए। जब हमने 2015 में दिल्ली में सरकार बनाई, तो हमने कांग्रेस को शून्य पर और भाजपा को तीन पर ला दिया, जबकि आप ने 67 सीटें जीतीं।"

केजरीवाल ने यह भी कहा कि पंजाब में आप ने भारी जनादेश के साथ सरकार बनाई, जबकि बीजेपी के गढ़ गुजरात में पार्टी को 14 फीसदी वोट मिले, इसके अलावा गोवा में उसके दो विधायक हैं। अब हम एक राष्ट्रीय पार्टी हैं। हमने 1,350 पार्टियों को पीछे छोड़ दिया और अब हम कांग्रेस और भाजपा के बाद तीसरे नंबर की पार्टी हैं। जिस गति से हम बढ़ रहे हैं, हम जल्द ही भाजपा और कांग्रेस को पीछे छोड़ देंगे।

भाजपा पर निशाना साधते हुए केजरीवाल ने कहा, ''अब भाजपा और (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) को एहसास हुआ है कि वे 2015 और 2020 के विधानसभा चुनावों में हार गए थे, और 2022 में वे दिल्ली में नगर निगम चुनावों में हार गए। वे अब जानते हैं कि वे आम आदमी पार्टी को नहीं हरा सकते। इसीलिए वे शराब घोटाले की साजिश रचने आए हैं।''

केजरीवाल ने यह भी कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भी कथित शराब घोटाले के मामले की सुनवाई की है और एजेंसियों से बार-बार सबूत मांगे हैं। उनके पास कोई सबूत नहीं है, और न्यायाधीश ने कहा कि आपका मामला दो मिनट के लिए भी नहीं रुकेगा।

उन्होंने मनीष सिसोदिया, संजय सिंह, सत्येन्द्र जैन और विजय नायर को गिरफ्तार किया है और अब वे मुझे गिरफ्तार करना चाहते हैं।

सीएम ने कहा, "उनका उद्देश्य आप सरकार के शीर्ष नेतृत्व को गिरफ्तार करना है ताकि वे सरकार बना सकें। वे जानते हैं कि वे आप को नहीं हरा सकते। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि भले ही आप केजरीवाल को जेल में डाल दें, आम आदमी पार्टी जीतेगी।"

केजरीवाल ने कहा, ''मैं मोदी जी को बताना चाहता हूं कि आप अपने जीवनकाल में दिल्ली में आम आदमी पार्टी को नहीं हरा सकते। आम आदमी पार्टी को हराने के लिए आपको दूसरा जन्म लेना होगा। आप पार्टी को सफलता मिलने का मुख्य कारण उसका किया गया काम है।

वे हमें काम के आधार पर नहीं हरा सकते। हमने इतने कम समय में जो काम किया है, वैसा काम कांग्रेस और बीजेपी ने कभी नहीं देखा। हम अपने द्वारा किए गए काम के कारण आगे बढ़ रहे हैं, साथ ही सच्चाई और मानवता की हमारी मूल्य प्रणाली के कारण भी।''

"मैं एक सार्वजनिक बैठक में प्रधानमंत्री का भाषण सुन रहा था, जहां उन्होंने एनसीपी को एक भ्रष्ट पार्टी कहा था, जिसके नेता भी भ्रष्ट हैं। हालांकि, कुछ दिनों बाद, अजीत पवार ने बीजेपी से हाथ मिला लिया।"

पश्चिम बंगाल में भी, सुवेंदु अधिकारी नाम के एक नेता हैं, जिनके खिलाफ कई मामले थे। लेकिन वह भी भाजपा में शामिल हो गए। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा के साथ भी यही हुआ, जिन पर उन्होंने भ्रष्ट होने का आरोप लगाया था।

उन्होंने कहा, "हालांकि, भाजपा में शामिल होने के बाद वह पाक साफ हो गए और उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। उनका एकमात्र उद्देश्य आप नेताओं को यह सोचकर गिरफ्तार करना है कि हमारे नेता डर के कारण उनके साथ शामिल हो जाएंगे।"

इसके बाद केजरीवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं से पूछा, "क्या मुझे इस्तीफा दे देना चाहिए या जेल के अंदर से सरकार चलानी चाहिए? मुझे क्या करना चाहिए? मैं आप सभी से आग्रह करता हूं कि आप हर घर में जाएं और इस पर लोगों की राय लें। और यह भी सुनिश्चित करें कि बीजेपी दिल्ली से न जीते।''

--आईएएनएस

एफजेड/एबीएम

Share this story

Tags