Samachar Nama
×

एनआईए ने सीमा पार हथियार तस्करी मामले में मलकीत सिंह के खिलाफ चार्जशीट दायर की

नई दिल्ली, 12 नवंबर (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सीमा पार हथियार तस्करी मामले में मलकीत सिंह के खिलाफ चार्जशीट दायर की है। जिसमें आरोप लगाया कि वह पाकिस्तान स्थित ड्रग तस्कर रहमत अली उर्फ मियां, पाक स्थित आईएसवाईएफ प्रमुख लखबीर सिंह रोडे उर्फ बाबाजी और रणजोत सिंह राणा के साथ सीधे संपर्क में था।
एनआईए ने सीमा पार हथियार तस्करी मामले में मलकीत सिंह के खिलाफ चार्जशीट दायर की

नई दिल्ली, 12 नवंबर (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सीमा पार हथियार तस्करी मामले में मलकीत सिंह के खिलाफ चार्जशीट दायर की है। जिसमें आरोप लगाया कि वह पाकिस्तान स्थित ड्रग तस्कर रहमत अली उर्फ मियां, पाक स्थित आईएसवाईएफ प्रमुख लखबीर सिंह रोडे उर्फ बाबाजी और रणजोत सिंह राणा के साथ सीधे संपर्क में था।

एनआईए के एक प्रवक्ता ने कहा, ''एजेंसी ने पंजाब के गुरदासपुर जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में ड्रोन के जरिए हथियारों और गोला-बारूद की सीमा पार तस्करी के मामले में पंजाब के मोहाली में एनआईए की विशेष अदालत में मलकीत सिंह के खिलाफ चार्जशीट दायर की है।

अधिकारी ने कहा कि एनआईए जांच में प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) के सदस्यों और पाकिस्तान स्थित व्यक्तियों के बीच संबंध का पता चला है। इस आतंकी नेटवर्क में पहचाने गए आरोपियों में मलकीत सिंह, तरनजोत सिंह उर्फ तन्ना और गुरजीत सिंह उर्फ पा शामिल हैं।"

अधिकारी ने कहा कि यह पाया गया कि ये संचालक पाकिस्तान स्थित ड्रग तस्कर रहमत अली उर्फ मियां, पाकिस्तान स्थित आईएसवाईएफ प्रमुख लखबीर सिंह रोडे उर्फ बाबाजी और रणजोत सिंह राणा के साथ सीधे संपर्क में थे।

रोडे उर्फ बाबाजी प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) का प्रमुख और इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन (आईएसवाईएफ) का चीफ है।

केएलएफ और आईएसवाईएफ दोनों को पंजाब के अलगाव की वकालत करने वाले उनके हिंसक अभियान को आगे बढ़ाने के लिए हत्याओं, बमबारी और विभिन्न अन्य आतंकवादी गतिविधियों सहित जघन्य आतंकवादी अपराधों की एक श्रृंखला में उनकी प्रत्यक्ष भागीदारी के कारण भारत सरकार द्वारा प्रतिबंधित कर दिया गया है।

अधिकारी ने कहा, इन संगठनों पर प्रतिबंध कानून प्रवर्तन कर्मियों पर उनके सुनियोजित सशस्त्र हमलों, आपराधिक धमकी, हत्या, जबरन वसूली, आतंकवादी गतिविधियों के लिए धन जुटाने और आम जनता के बीच आतंक पैदा करने की प्रतिक्रिया है।

बीएसएफ अधिकारियों ने पंजाब के बटाला के डेरा बाबा नानक के गांव बगताना बोहरवाला के श्मशान घाट से हथियारों और गोला-बारूद का एक जखीरा बरामद किया। बरामद वस्तुओं में ऑस्ट्रिया में निर्मित पांच ग्लॉक पिस्तौल, 9 एमएम के 91 जिंदा कारतूस और 10 मैगजीन शामिल हैं। एनआईए ने इस साल 8 अगस्त को जांच अपने हाथ में ली थी।

--आईएएनएस

एफजेड

Share this story

Tags