×

 Ambikapur शराब का विरोध करने पर युवक की हत्या

fdchjjn

 छत्तीसगढ़ न्यूज़ डेस्क छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में शराबखोरी का विरोध करने पर एक ग्रामीण की बेरहमी से पिटाई कर उसे अधमरी हालत में थाने के सामने फेंक दिया गया। घटना की शिकायत होने के बावजूद आरोपियों को गिरफ्तार नही किया गया। इस बीच इलाज के दौरान मंगलवार को युवक की मौत हो गई। यह खबर जब ग्रामीणों तक पहुंची तब उन्होंने शव लेकर 1 घंटे तक नयापारा सड़क पर चक्काजाम कर दिया। पूरा मामला चकरभाठा थाना क्षेत्र का है।

5 सितंबर की रात गांव के मंदिरहा तालाब के पास गए थे। इस दौरान कुछ लोग वहां पर शराब पी रहे थे। अशोक ने तालाब के पास शराब की बोतल फोड़ने का विरोध किया।  अचानकपुर नयापारा में रहने वाले अशोक मानिकपुरी (45) और उनके साथी विनोद साहू आरोप है कि इस पर गांव के राजू ध्रुव, संजू ध्रुव और उनके साथियों ने अशोक से मारपीट की। मारपीट से घायल अशोक को हमलावर चकरभाठा थाने के सामने फेंककर चले गए। विनोद ने इसकी जानकारी पुलिस और डायल 112 को दी। इसके बाद उसे निजी अस्पताल लेकर गए, लेकिन उपचार के दौरान मंगलवार दोपहर अशोक की मौत हो गई।

मंगलवार शाम गांव में शव पहुंचते ही लगभग 200 को संख्या में ग्रामीण उसे लेकर चकरभाठा थाना पहुंच गए।  इसकी जानकारी होने पर ग्रामीण आक्रोशित हो गए। थाने के सामने नयापारा चौक में ग्रामीणों ने शव सड़क में रखकर चक्काजाम कर दिया। इस दौरान ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि घटना की सूचना पर पुलिस ने मामूली धाराओं में केस दर्ज किया। इतना ही नहीं घायल की सुध भी नहीं ली। इस बीच सभी आरोपी फरार हो गए।

पुलिस अधिकारियों ने जब आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन दिया, तब जाकर एक घंटे बाद ग्रामीणों ने जाम खोला।  ग्रामीणों ने आरोपी युवकों की गिरफ्तारी और मृतक के परिवार को मुआवजा देने की मांग की। वहीं जब मामले को लेकर चकरभाठा थाना प्रभारी सुनील तिर्की से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा पुलिस की 4 टीम आरोपियों को पकड़ने के लिए रवाना की गई है। जल्द उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Share this story