×

SIWAN पिठौरी पंचायत के गांवों में पगडंडी है, पर सड़क नहीं, बारिश के बाद चलना मुश्किल

Angry cow attacked firefighter, see what happened next in the video

बिहार न्यूज़ डेस्क !!! गांवों तक पहुंचने के लिए मुख्य सड़कें तो हैं, गांव के अंदर कच्ची सड़क है। सड़कों के किनारे नाली नहीं होने के कारण जलजमाव की समस्या बनी रहती है। ग्रामीणों ने बताया कि स्वास्थ्य, शिक्षा, आंगनबाड़ी, बिजली, नाली सिंचाई से जुड़ी समस्याएं तो है ही इसके अलावा राशन कार्ड व सैकड़ों वृद्धा पेंशनधारी की पेंशन की समस्या के अलावा जंगली जानवरों से हो रहे नुकसान भी है। बरसात के महीनों में घर से निकलना मुश्किल हो जाता है। खबरों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि,सदर प्रखंड की पिठौरी पंचायत के पचौरा, विसम्भपुर, अघेला गांव में समस्या ही समस्या है। कच्ची सड़क होने की वजह साइकिल या बाइक नहीं निकल पाता है। गांव में ही सरकारी जमीन में पानी का बहाव किया जाता है। जो भर जाने के मुख्य सडक पर बहने लगता है। बहुत बार छात्र साइकिल लेकर गड्ढे में गिर जाते है।

सबसे बड़ी समस्या दलित बस्ती की है। लोगो को घरो से निकलने में परेशानी हो रही है।आपकी जानकारी के लिए बता दे की,स्थानीय लोगों ने बताया कि सड़क किनारे पक्की नालियों की मुख्य सड़क को दुरुस्त करने की जरूरत है। हर घर शौचालय निर्माण, बिजली व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त हो, स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण हो, उच्च विद्यालय की व्यवस्था हो, सफाईकर्मी की व्यवस्था हो, सरकार की योजनाओं का लाभ जरूरतमंदों तक पहुंचे, राशन वितरण प्रणाली में सुधार, जलजमाव की समाधान, यहां गरीब, असहाय, जरूरतमंद लोग सरकारी सुविधाओं से वंचित हैं। पिछले कई वर्षों से पिठौरी गांव में पक्की सड़क नहीं है। कच्ची सड़क से ही लोग आवाजाही कर रहे है। राशन वितरण का लाभ गरीब, जरूरतमंदों को नहीं मिलता है। गरीब राशन के अभाव में यहां-वहां भटक रहे हैं। आंगनबाड़ी सेंटर अक्सर बंद रहता है। बच्चों को उत्तम शिक्षा के लिए हाइस्कूल या कॉलेज की व्यवस्था नहीं है। प्राइमरी स्कूलों में पठन-पाठन की अच्छी व्यवस्था नहीं है।

Share this story