×

PATNA पटना में महासप्तमी की पूजा के बाद खुला माता का पट, मूर्ति कलाकारों ने प्रतिमा

त्योहार के दौरान भीड़-भाड़ वाले इलाके, बाजार, हाट आदि में घुस कर लोगों की जेब से मोबाइल चुराने वाले एक गैंग का जीरोमाइल पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। इस सिलसिले में पुलिस 2 युवकों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार मिथुन महतो साहेबगंज जिले के महाराजगंज का रहने वाला है, जबकि उसका साथी छोटू कुमार बुद्धुचक के एकडारा गांव का।  इन लोगों के अलावा पुलिस ने एक नाबालिग लड़के को भी पकड़ा है, जो चोरी में सहयोग करता था। तीनों की निशानदेही पर पुलिस ने अलग-अलग कंपनियों का 11 मोबाइल बरामद किये हैं। इस गैंग से जुड़े लोग जीरोमाइल के राजेंद्र नगर कॉलोनी में एक इंजीनियर के मकान में कपड़ा व्यवसायी के रूप में कमरा किराए पर लेकर रह रहे थे। नाबालिग लड़के भीड़ में घुस कर पॉकेटमारी करते थे जीरोमाइल थानेदार राज कुमार प्रसाद को इस गैंग के ठिकाने के बारे में सूचना मिली तो सोमवार रात को छापा मारा।


बिहार न्यूज़ डेस्क !!! मंगलवार को जयकारों और शंख की गूंज के बीच मां का पट खुल गया। मां के अलग-अलग मनोरम रूप शहर के अलग-अलग हिस्सों में बने पूजा पंडालों में दर्शन किये जा रहे है । पंडालों में भक्तों की भीड़ देखी जा रही है, लेकिन इस भीड़ में कोरोना गाइडलाइन का पालन कही नहीं दिख रहा। ना तो यहां सोशल डिस्टेसिंग दिख रही है और ना ही चेहरों पर मास्क दिख रहा है।
पटना में पाबंदियों के बावजूद पूजा पंडालों में भव्यवता दिख रही है। बाहर बुद्ध की आकृति से सजे इस पंडाल में अंदर ड्रैगन की आकृति पूजा पंडाल में दिखाई दे रहा है। पीरमुहानी स्थित पूजा पंडाल में भगवान बुद्ध की बेहद खूबसूरत आकृति दिखाई दे रही है। जितेन्द्र ने माता की मूर्ति के जरिए श्रद्धालुओं को  पूजा पंडाल में लाकारखास संदेश देने की कोशिश की है। मिट्‌टी से बनाई गई माता की इस प्रतिमा के पीछे कई चेहरे बनाये गए हैं। इन सभी के चेहरों पर पूजा पंडालों में पट खुलते ही भीड़ दिख रही है, महासप्तमी के बाद पटना में दशहरा मेला का नजारा दिखता है और पंडालों में दर्शनार्थियों की भीड़ होती है। पंडालों में ये भीड़ सप्तमी से लेकर नवमी तक होती है। दिन में कोरोना गाइडलाइन का पटना में जो हाल दिख रहा है उससे रात में इसका पालन हो ऐसा लगता नहीं।

पटना न्यूज़ डेस्क !!!

       

Share this story