×

nalanda   राज्य सरकार ने बोधिवृक्ष के पौधे बांटने पर लगाई रोक, अब गृह विभाग से लेनी होगी अनुमति

त्योहार के दौरान भीड़-भाड़ वाले इलाके, बाजार, हाट आदि में घुस कर लोगों की जेब से मोबाइल चुराने वाले एक गैंग का जीरोमाइल पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। इस सिलसिले में पुलिस 2 युवकों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार मिथुन महतो साहेबगंज जिले के महाराजगंज का रहने वाला है, जबकि उसका साथी छोटू कुमार बुद्धुचक के एकडारा गांव का।  इन लोगों के अलावा पुलिस ने एक नाबालिग लड़के को भी पकड़ा है, जो चोरी में सहयोग करता था। तीनों की निशानदेही पर पुलिस ने अलग-अलग कंपनियों का 11 मोबाइल बरामद किये हैं। इस गैंग से जुड़े लोग जीरोमाइल के राजेंद्र नगर कॉलोनी में एक इंजीनियर के मकान में कपड़ा व्यवसायी के रूप में कमरा किराए पर लेकर रह रहे थे। नाबालिग लड़के भीड़ में घुस कर पॉकेटमारी करते थे जीरोमाइल थानेदार राज कुमार प्रसाद को इस गैंग के ठिकाने के बारे में सूचना मिली तो सोमवार रात को छापा मारा।


बिहार न्यूज़ डेस्क !!! बोधिवृक्ष के नीचे 2610 साल पहले सिद्धार्थ ज्ञान प्राप्त कर बुद्ध बने, अब उसके पौधे लेने के नियम में बदलाव हो गया है। राज्य सरकार ने बोधगया मंदिर प्रबन्धकारिणी समिति के बोधिवृक्ष बांटने पर रोक लगा दी है। गृह विभाग की अनुमति के बाद ही पवित्र बोधिवृक्ष के शिशु पौधों को दिया जाता है।  बौद्धों की आस्था का प्रतीक व विश्व में प्रेम, अहिंसा, शांति व भ्रातृत्व का संदेश प्रसारित करने वाला बोधिवृक्ष विश्व के 12 से अधिक देशों में भगवान बुद्ध के संदेश को प्रसारित कर रहा है।

केंद्र सरकार द्वारा बोधिवृक्ष के पौधे उपहार में देकर करुणा, सहिष्णुता व अहिंसात्मक मूल्यों को संवर्धित करने का प्रयास किया जाता रहा है। PM मोदी ने भी इस सिलसिले को आगे बढ़ाया। इससे न केवल दो देशों के बीच बेहतर संबंध हुए, बल्कि टूरिज्म सेक्टर को भी लाभ हुआ।

नालंदा न्यूज़ डेस्क !!!

Share this story