×

PATNA जूनियर डॉक्टर एसोसिएशन का समर्थन मिला तो उग्र हो जाएगा आंदोलन, स्वास्थ्य व्यवस्था में आ सकती है बाधा

Take home this electric bike on EMI of around Rs 1200, will run 100 km on full charge

बिहार न्यूज़ डेस्क !!! जूनियर डॉक्टर एसाेसिएशन  के साथ डॉक्टरों के अन्य संगठनों ने MBBS स्टूडेंट्स को सहयोग करने की बात कही है। ऐसा हुआ तो आंदोलन बड़ा रूप ले सकता है। JDA का समर्थन मिल रहा है, जिससे वह न्याय की लड़ाई लड़ रहे हैं। पटना मेडिकल कॉलेज के फेल MBBS स्टूडेंट्स आर्यभट्‌ट ज्ञान विश्वविद्यालय द्वारा मूल्यांकन में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए शनिवार और सोमवार को OPD बंद कराए थे। इस दौरान मरीजों का इलाज बाधित हो गया था। इलाज बाधित होने से PMCH में हड़कंप मच गया क्योंकि बीमारी के सीजन में मरीजों की भारी भीड़ थी। ऐसे में प्रिंसिपल डॉ. विद्यापति चौधरी ने 180 स्टूडेट्स को 15 दिनों के लिए कॉलेज और हॉस्टल से सस्पेंड कर दिया।

इस कार्रवाई के बाद स्टूडेंट्स का आक्रोश और बढ़ गया है। सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि,सोमवार को OPD बंद कराने वाले स्टूडेंट्स का कहना है कि JDA भी उनके साथ है।खबरों से प्राप्त जानकर के अनुसार बताया जा रहा है कि,180 MBBS स्टूडेंट्स पर PMCH की कार्रवाई से उबाल है। स्टूडेंट्स का आक्रोश बढ़ रहा है। अब वह उग्र प्रदर्शन की तैयारी में हैं। वह अन्य कई मेडिकल संगठनों का साथ होने की बात कहे, OPD बंद कराने के दो घंटे में ही उनके खिलाफ कार्रवाई कर दी गई है। अब स्टूडेट्स रणनीति बनाकर आंदोलन की तैयारी कर रहे हैं।

जूनियर डॉक्टरों का एसोसिएशन अभी खुलकर छात्रों के साथ नहीं आया है लेकिन अगर उनका समर्थन मिलता है तो फिर OPD पर बड़ा प्रभाव पड़ सकता है। MBBS के फेल स्टूडेंट्स का कहना है कि उन्होंने RTI से कॉपी निकलवाई है, इसमें साफ दिख रहा है कि किस तरह से उनके साथ धोखा किया गया है। अपनी आवाज उठाए तो सस्पेंड कर दिया गया। 15 दिन सस्पेंड करने से उनकी पूरी व्यवस्था गड़बड़ हो जाएगी।

Share this story