×

Gopalanj हथुआ में पंचायती जनप्रतिनिधियों का शुरू हुआ चुनाव प्रचार, प्रत्याशी घर-घर कर रहे संपर्क

बुधवार को महाअष्टमी पर श्रद्धालुओं ने भगवती की पूजा की। जिले के सिद्धपीठ उच्चैठ भगवती की पूजा श्रद्धालुओं के द्वारा बुधवार को महागौरी के रूप में की गई। सिद्धपीठ उच्चैठ भगवती मंदिर के पंडों ने बुधवार को शाम के 4 बजे तक करीब 1 लाख से अधिक श्रद्धालुओं के द्वारा माता की पूजा किए जाने की जानकारी दी। वहीं, आज मां के सिद्धिदात्री स्वरूप की उपासना की जाएगी। वहीं, बेनीपट्टी प्रखंड के चानपुरा गांव के श्रद्धालुओं सहित अन्य जगहों के श्रद्धालुओं के द्वारा करीब 500 से अधिक छाग की बलि प्रदान की गई। वहीं, दूसरी ओर जयनगर में बिहार के सबसे ऊंचे दुर्गा मंदिर में 60 हजार से अधिक लोगों ने माता रानी की पूजा-अर्चना की जबकि महिलाओं ने खोंइछा भरा। मंदिर परिसर में दुर्गा सप्तशती पाठ और मां के जयकारे से पूरा वातावरण भक्तिमय हो चुका है। वहीं, जिले में हर पूजा पंडाल में सुबह से ही मां का पूजन और दर्शन करने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी।  दुर्गा पूजा के दाैरान नजर रखने के लिए कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में बना कंट्रोल रूम  दुर्गा पूजा के दौरान विधि व्यवस्था बनाए रखने व किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना घटने पर इसके त्वरित कार्रवाई के लिए मुख्यालय स्थित कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में जिला नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है। यह नियंत्रण कक्ष मंगलवार से शुक्रवार काे प्रतिमा विसर्जन तक 24 घंटे कार्य करेगा। जिला प्रशासन की ओर से इसके लिए चार शिफ्टों में चार ग्रुपों में अधिकारियों की तैनाती की गई है। एक ग्रुप में 6 अधिकारी को शामिल किया गया है। जिला नियंत्रण कक्ष के वरीय प्रभारी के रूप में अपर समाहर्ता अवधेश राम को बनाया गया है। वरीय पुलिस पदाधिकारी के रूप में पुलिस उपाधीक्षक प्रभाकर तिवारी की प्रतिनियुक्ति की गई है। जिला नियंत्रण कक्ष का नंबर 06276-224425 जारी किया गया है। वहीं, किसी तरह की परेशानी होने पर लोग इन नंबरों पर संपर्क कर कोई महत्वपूर्ण सूचना दे सकते हैं जिस पर तत्काल कार्रवाई होगी।


बिहार न्यूज़ डेस्क !!! हथुआ प्रखंड में दशहरा पर्व के बीच चुनावी पर्व भी रफ्तार पकड़ने लगा है । बताया जा रहा है कि, सभी पंचायतों में पंचायती जनप्रतिनिधि के प्रत्याशी घर घर जाकर जनसंपर्क कर रहे हैं और अपने लिए आशीर्वाद मांग रहे हैं ।

इस दौरान महिलाओं को भी देखा जा रहा है और वो अपने लिए वोट मांग रही हैं और वोटरों को रिझाने की कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही हैं । सबसे ज्यादा महाभारत मुखिया प्रत्याशियों के बीच देखा जा रहा है जो सुबह से शाम तक अपने समर्थकों के साथ दिन रात एक कर जनसंपर्क के लिए जुटे हुए हैं ।

बता दें कि, प्रत्याशियों को सिंबल आवंटित होने के बाद चुनावी महासंग्राम में और भी तेजी आ चुकी हैं । अभी तक घर के बाहर कदम नहीं रखने वाली महिलाएं भी जोरों शोर के साथ पंचायती चुनाव अभियान में जनसंपर्क करते दिखाई दे रही हैं । आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, इस बार पंचायती चुनाव की सबसे खास बात ये है कि, लगभग सभी पदों के लिए प्रत्याशियों का जोर है और कहीं से कोई निर्विरोध पद का जिक्र तक नहीं हो रहा  हैं  ।

गोपालगंज न्यूज डेस्क !!!

Share this story