×

Bhagalpur भागलपुर में सहोदर भाई और चाचा ने मिलकर अपनी ही बहन और भतीजी की पीट-पीटकर कर दी हत्या

Bhagalpur भागलपुर में सहोदर भाई और चाचा ने मिलकर अपनी ही बहन और भतीजी की पीट-पीटकर कर दी हत्या

बिहार न्यूज़ डेस्क!!!खबरों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि,संजय साह ने बताया कि घर में तीन डिसमिल जमींन जो उसके ससुर के द्वारा दिया गया था उस पर सुलेखा ने एक झोपडी बनाया था जिसे आरोपियों ने उजाड़ दिया था | इस बात को लेकर पंचायत भी हुई थी और दोनों तरफ से बांड हुआ है दोनों एकदूसरे से मार पीट नही करेंगे| फिलहाल बरारी थाना में मामला दर्ज किया जा रहा है |भागलपुर में जमीन के एक छोटे से टुकड़े के लिए अपना ही सहोदर भाई और चाचा ने रिश्ते को कलंकित करते हुए अपनी ही बहन और बेटी के जान का दुशम बन गये | दरअसल पांच कट्ठा तीन डिसमिल जमीन पर कब्जा करने के लिए एक सहोदर भाई और चाचा ने मिलकर अपनी ही बहन और भतीजी की पीट-पीटकर हत्या कर दी। मामला रसलपुर थाना क्षेत्र के धनौरा गांव का है। मृतका संजय साह की 31 वर्षीय पत्नी सुलेखा देवी बताई जाती है।

बताया जा रहा है कि,मृतका के पति ने बताया कि उसकी पत्नी सुलेखा देवी बाएं पैर से विकलांग थी। पिता विश्वनाथ साह ने उसकी शादी में अपने दामाद को अपने गाँव की पांच कट्ठा जोत की जमीन और तीन डिसमिल जमीन अपने घर में दे दिया। जो मृतका के अपने छोटे भाई फंटूस और चाचा मन्नी साह को नागवार गुजरी। वे लोग हमेशा सुलेखा और उसके पति को गाँव छोड़कर भाग जाने का दवाब बनाते रहते थे |सुलेखा देवी अपना घर बनाने केलिए गांव के ही यूको बैंक से 50 हजार का लोन लिया था। सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि,आपकी जानकारी के लिए बता दें कि,जब वह अपने लोन का क़िस्त जमा करके यूको बैंक से अपने पति के साथ घर लौट रही थी तभी उसके चाचा मन्नी साह,मन्नी साह के दोनों बेटे मुकेश साह और दीपक साह, मृतका का छोटा भाई फंटूस और मन्नी साह उसे घेर कर खंती, सरिया और कुदाल से उस पर हमला कर दिया।

मीडिया रिपेार्ट के अनुसार हमले में सुलेखा का पति संजय साह किसी तरह वहां से जान बचाकर भाग निकला। आरोपियों ने मिलकर सुलेखा की बुरी तरह पिटाई कर दी। उन लोगों ने सुलेखा देवी के दोनों हाथ और दोनों पाँव तोड़ दिए थे। संजय साह ने बताया कि दाहिना पैर दो जगह से टूट गया है। पहली जगह घुटनी जबकि दूसरी जगह ठेहुना के नीचे टूटा है। आरोपी उसे पिटते पिटते अधमरा कर छोड़ कर चले गये तब संजय साह ने किसी तरह सुलेखा को मायागंज अस्पताल ले आये जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।संजय साह ने बताया कि जमीन लिख देने से विश्वनाथ साह का छोटा बेटा फंटूस और उसका भाई मन्नी साह विश्वनाथ साह से नाखुश थे | इसी वजह से उसे इनलोगों ने मार्च महीने में ही विश्वनाथ साह को उसके घर से भगा दिया।

Share this story