×

IPL में 9 साल पहले भी फाइनल में भिड़े थे CSK और KKR, जानिए  किस टीम को मिली थी जीत 
 

csk vs kkr

क्रिकेट न्यूज़ डेस्क।। आईपीएल 2021 के फाइनल मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स और केकेआर के बीच भिड़ंत होने वाली है । इस मुकाबले से पहले फैंस के जे़हन में  आईपीएल 2012 का  फाइनल मैच का मंजर  याद आ गया है ।

CSK vs KKR, IPL 2021 Final कौन पड़ेगा किस पर भारी , ऐसे हैं दोनों टीमों के हेड टू हेड  आंकड़े
 

ipl 2021 csk vs kkr

दरअसल आईपीएल 2012 के फाइनल मैच में   महेंद्र  सिंह धोनी की अगुवाई वाली चेन्नई सुपरकिंग्स और  गौतम गंभीर की नेतृत्व वाली  कोलकाता नाइटराइडर्स के बीच भिड़ंत हुई थी। केकेआर ने     2012 में  चेन्नई सुपरकिंग्स को मात देकर  पहली बार खिताब जीता था।  इस मुकाबले में  टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई सुपरकिंग्स 20 ओवर में  3 विकेट के नुकसान पर 190 रन बनाने में सफल रही थी । सीएसके के लिए  माइक हसी  और मुरली विजय के बीच     पहले विकेट के लिए 87 रनों की  साझेदारी हुई थी।

 CSK vs KKR Final चेन्नई और कोलकाता के बीच होगा महामुकाबला, ऐसी हो सकती है दोनों टीमों की प्लेइंग-XI

ipl 2021 trophy--11

मुरली विजय ने  32 गेंद में  42 रन  बनाए थे। सुरेश रैना ने भी  विस्फोटक बल्लेबाजी करते हुए  38  गेंदों  में तीन चौके और   5 छक्के की मदद से 73 रनों की पारी खेली थी। वहीं  माइक हसी ने    43 गेंदों में  54 रनों की पारी खेली थी। वहीं इसके जवाब में  191 रनों का लक्ष्य का पीछा करते हुए केकेआर की  शुरुआत खराब रही। पहले ही ओवर में    बेन हिल्फेनहास ने   गौतम गंभीर को बोल्ड कर केकेआर को बड़ा  झटका दिया।

IPL 2021 के फाइनल मैच में ये नया विश्व रिकॉर्ड बनाएंगे  MS Dhoni, करेंगे बड़ा कारनामा 

वहीं इसके बाद   मलविंदर  बिस्ला और कैलिस ने दूसरे  विकेट के लिए  136 रनों की साझेदारी की  और टीम  की जीत सुनिश्चित की । बिस्ला ने   48 गेंदों में 8 चौके और  पांच छक्के  की मदद से  89 रनों  की पारी  खेली और  उन्हें मैन ऑफ द  मैच चुना गया । दूसरी  ओर जैके केलिस ने    49 गेंदों में सात चौके और  एक छक्के की मदद से  69 रन बनाए। चेन्नई की ओर से आईपीएल 2012 के फाइनल मैच में     धोनी, रविंद्र जडेजा,ड्वेन ब्रावो ने हिस्सा लिया था, वहीं केकेआर के लिए सुनील नेरन, शाकिब हसन प्रमुख रूप से  हिस्सा रहे थे।   सुनील नरेन को तब प्लेयर ऑफ द  टूर्नामेंट  चुना गया था।

Share this story