Samachar Nama
×

एक्सरसाइज करने का बेस्ट टाइम क्या है सुबह या शाम,किस समय मिलता है ज्यादा फायदा 

;

लाइफस्टाइल न्यूज़ डेस्क, एक्सरसाइज करना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है और रोज वर्कआउट करने से आपको एक साथ कई लाभ मिलते हैं, ये बात तो अधिकतर लोग जानते हैं। हालांकि, एक्सरसाइज करने का सबसे सही समय क्या है, सुबह या शाम किस समय वर्कआउट करना सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद होता है? इस तरह के सवाल अक्सर लोगों के बीच कंफ्यूजन का कारण बन जाते हैं। 

सुबह एक्सरसाइज करने से मिलते हैं ये फायदे
कई हेल्थ रिपोर्ट्स बताती हैं कि सुबह के समय की गई एक्सरसाइज मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करने में मदद करती है, जिससे आपको पूरे दिन कैलोरी जलाने में मदद मिलती है। दरअसल, खाली पेट किया गया व्यायाम फैट ऑक्सीकरण बढ़ा सकता है, साथ ही इंसुलिन संवेदनशीलता में भी सुधार कर सकता है।इसके अलावा सुबह-सुबह एक्सरसाइज करने से व्यक्ति का मानसिक फोकस बढ़ता है, मूड बेहतर होता है, साथ ही व्यक्ति पूरे दिन खुद को एनर्जेटिक महसूस करता है। ऐसा इसलिए क्योंकि एक्सरसाइज करने से एंडोर्फिन,डोपामाइन और सेरोटोनिन जैसे हैप्पी हार्मोन रीलीज होते हैं, जिससे आप पूरे दिन खुद को बेहतर महसूस करते हैं।इन सब से अलग दिन की शुरुआत में किया गया वर्कआउट आपके सर्कैडियन लय को विनियमित करने में मदद कर सकता है। 

ये हो सकते हैं नुकसान
फायदों से अलग सुबह के समय एक्सरसाइज करना कुछ मायनों में सेहत के लिए हानिकारक भी हो सकता है। दरअसल, सुबह के समय मांसपेशियां और जोड़ सख्त और कम लचीले हो सकते हैं, जिससे जोरदार व्यायाम के दौरान चोट लगने का खतरा बढ़ जाता है। साथ ही कुछ व्यक्तियों को सुबह-सुबह वर्कआउट के दौरान थकान या प्रदर्शन में कमी का अनुभव हो सकता है, खासकर यदि उन्हें पहले से पर्याप्त आराम या पोषण नहीं मिला हो।

शाम के समय वर्कआउट से मिलते हैं ये फायदे
बात शाम के समय की गई एक्सरसाइज की करें, तो कुछ हेल्थ रिपोर्ट्स बताती हैं कि मांसपेशियों की शक्ति और ताकत दोपहर के बाद या शाम के समय चरम पर हो सकती है, जिससे संभावित रूप से व्यायाम प्रदर्शन में सुधार होगा और मांसपेशियों में वृद्धि होगी। इससे अलग जो लोग दिन का ज्यादातर समय एक ही जगह बैठे-बैठे बिताते हैं, उनके लिए शाम के समय किया गया वर्कआउट स्ट्रेस रिलीव मैकेनिज्म की तरह काम कर सकता है। 

Share this story

Tags