×

कभी कच्ची ना खाएं ये सब्जियां, सेहत के लिए हो सकती है  खतरनाक

व्

बहुत से लोग सोचते हैं कि सब्जियां पकाने से उनका पोषण मूल्य कम हो जाता है। इसलिए कुछ लोग टमाटर, गाजर, ब्रोकली, लहसुन, प्याज जैसी सब्जियां खूब खाते हैं। हालांकि, अगर आप कुछ सब्जियां कच्ची खाते हैं.. कोई स्वास्थ्य समस्या नहीं होगी। लेकिन अगर कुछ सब्जियों को उबाला नहीं जाता है.. या ठीक से नहीं पकाया जाता है.. तो वे पूरी तरह से हानिकारक होने का जोखिम उठाते हैं। इतना ही नहीं, वे जानलेवा बीमारियों का कारण भी बन सकते हैं। और आइए जानते हैं कौन सी हैं वो सब्जियां।

अंकुरित आलू / आलू

आलू हर किचन में पाई जाने वाली सब्जियों में से एक है। करी से लेकर स्नैक्स तक हर चीज में आलू का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। हालांकि आलू को हमेशा अच्छे से पकाना चाहिए। जब आलू अंकुरित होने लगे तो उन पर हरे धब्बे दिखाई देने लगते हैं। ये हरे धब्बे सोलनिन नामक विष उत्पन्न करते हैं। अगर आलू पर छोटे-छोटे दाने या धब्बे नजर आ रहे हैं तो उन्हें अच्छी तरह से पकाएं। नहीं तो सोलनिन का जहर पेट में चला जाता है।

लौकी
कद्दू का रस और तोरी की सब्जी कई लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय है। डॉक्टर्स का कहना है कि तोरी सेहत के लिए बहुत अच्छी होती है। कहा जाता है कि कद्दू में एंटीडोट होता है, जो वजन कम करने और रक्त शर्करा को कम करने के लिए आवश्यक होता है। हालांकि इसे तभी खाना चाहिए जब यह अच्छी तरह से पक जाए। या फिर इसका जूस बनाकर पी लें। अगर कद्दू को ठीक से नहीं पकाया जाता है तो पेट की समस्या होने की संभावना अधिक होती है।

बैंगन या बैंगन

अगर बैंगन को ठीक से नहीं पकाया जाता है..आलू की तरह.. उनमें ग्लाइकोकलॉइड यौगिक बनते हैं। हालांकि वे जहरीले नहीं होते हैं, लेकिन अगर उन्हें ठीक से पकाया जाए तो वे अच्छे पोषण लाभ प्रदान करते हैं।

कसावा या टैपिओका

कसावा पेड़ के कंद/जड़ों का एक वंश है। कुछ भारतीय खाना पकाने में इसका बड़े पैमाने पर उपयोग करते हैं। हालांकि उपयोग करने से पहले इसे अच्छी तरह से भिगोया या पकाया जाना चाहिए। हरा टोपिओका साइनाइड नामक विष पैदा करता है। यह बहुत ही घातक जहर है। तो इस चुकंदर से सावधान रहें।

अंकुरित हरी बीन्स

अंकुरित सौंफ और अल्फाल्फा बीन्स से सावधान रहें। खाद्य एवं औषधि प्रशासन के अनुसार, रोगाणु आसानी से अंकुरित बीजों में प्रवेश कर सकते हैं। ये स्वास्थ्य के लिए खतरा पैदा करते हैं।

ब्रॉकली

ब्रोकोली उत्कृष्ट पोषण लाभ प्रदान करती है चाहे सब्जी पकाई गई हो या भाप में। उचित रूप से कवर किया गया, यह काफी प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना करेगा। अच्छी तरह पकाने के साथ ही इसमें मौजूद पोषक तत्व कैंसर से लड़ने वाले यौगिकों को बढ़ाते हैं।

हरी सेम

हरी बीन्स न ज्यादा खतरनाक होती हैं और न ही ज्यादा जहरीली। लेकिन इन्हें अच्छी तरह पकाकर खाना चाहिए। इनमें लेक्टिन का उच्च स्तर पाचन संबंधी कई समस्याओं को जन्म दे सकता है।

Share this story