Samachar Nama
×

क्या जमानत के लिए गूगल PIN लोकेशन देने से कोई नुकसान तो नहीं,जाने क्या है सुप्रीम कोर्ट का कहना 

क्या जमानत के लिए गूगल PIN लोकेशन देने से कोई नुकसान तो नहीं,जाने क्या है सुप्रीम कोर्ट का कहना 

टेक न्यूज़ डेस्क,जमानत देने के लिए क्या कोर्ट आरोपी की लाइव लोकेशन को शर्त का हिस्सा बना सकता है? इस मामले में सुप्रीम कोर्ट की अहम टिप्पणी आई है. सुप्रीम कोर्ट को तय करना है कि क्या लोकेशन शेयरिंग को जमानत देने की शर्त का आधार बनाया जा सकता है. जस्टिस अभय एस ओका और जस्टिसउज्जल भुइयां की डिविजनल बेंच इस अपील पर सुनवाई कर रही है. जस्टिस ओका ने कहा कि गूगल लोकेशन पिन से कोई नुकसान नहीं है और कई हाईकोर्ट ने इसे शर्त के रूप में रखना शुरू कर दिया है.

इस मामले में कोर्ट ने गूगल से उसके लोकेशन पिन शेयरिंग फीचर के बारे में भी पूछा था. जमानत की शर्त के तौर पर लोकेशन-शेयरिंग को शामिल करने से प्राइवेसी प्रभावित हो सकती है. इसलिए यह मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा जहां कोर्ट को जांचना है कि क्या लोकेशन शेयर करने की शर्त निजता के अधिकार का उल्लंघन करती है या नहीं.

लोकेशन पिन से नहीं कोई नुकसान
अपील पर सुनवाई करते हुए जस्टिस अभय एस ओका ने कहा कि गूगल लोकेशन पिन से कोई नुकसान नहीं है और कई हाईकोर्ट ने इसे शर्त के रूप में रखना शुरू कर दिया है, जिसकी हम सुनवाई करेंगे. गूगल पिन की शर्त अतिश्योक्तिपूर्ण है और हम आज उस पहलू का निपटारा करेंगे कि क्या यह बिना सहमति के किया जा सकता है?

लोकेशन शेयरिंग पर जमानत देना आर्टिकल 21 का उल्लंघन?
जस्टिस अभय एस ओका और जस्टिस उज्जल भुइयां की बेंच ने दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा लगाई गई जमानत शर्त के खिलाफ फ्रैंक विटस की अपील पर सुनवाई की थी. दिल्ली हाईकोर्ट ने लोकेशन शेयर करने की शर्त के साथ फ्रैंक को नारकोटिक ड्रग्स और साइकोट्रोपिक सब्सटेंस (NDPS) एक्ट के तहत दर्ज एक मामले में जमानत दी थी. लोकेशन शेयर करने से पता चलता रहता कि आरोपी कहां-कहां जा रहा है.

इसलिए यह सवाल अहम हो गया कि लोकेशन शेयर करने की शर्त के साथ जमानत देने से आर्टिकल 21 के तहत आरोपियों के अधिकारों का उल्लंघन हो सकता है. पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने गूगल पिन के काम करने का तरीका जानने के लिए गूगल को नोटिस जारी किया था.

क्या है गूगल लोकेशन शेयरिंग?
गूगल लोकेशन शेयरिंग एक फीचर है जो गूगल मैप्स ऐप पर मिलता है. एंड्रॉयड स्मार्टफोन और टैबलेट यूजर्स इस फीचर का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके जरिए आप किसी के भी साथ अपनी रियल टाइम लोकेशन शेयर कर सकते हैं. जिसके पास आप लोकेशन शेयर करेंगे वो आसानी देख सकेगा कि आप कहां-कहां जा रहे हैं.

Share this story

Tags