Samachar Nama
×

केवल WhatsApp पर ही नहीं, इंस्टाग्राम पर भी चल रहा है स्कैम,एक महिला से लूटे 74 लाख रुपये,जाने कैसे हुई शिकार 

;

टेक न्यूज़ डेस्क,सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कई लोग करते हैं। फेसबुक, व्हाट्सएप या इंस्टाग्राम जैसे ऐप्स तो हर उम्र के लोगों की पसंद बन चुके हैं। हालांकि, पहले के मामले में इनका इस्तेमाल करना सुरक्षित नहीं बल्कि बैंक खाते के लिए खतरनाक हो चुका है। दरअसल, पिछले कुछ सालों में सोशल मीडिया से जुड़े कई मामले ऐसे सामने आए हैं जहां लोगों के बैंक खाते से पैसे जाने की वजह ये ऐप्स बने हैं। हाल ही में व्हाट्सएप ग्रुप के कारण कई लोगों के साथ धोखाधड़ी हुई हैं। वहीं, अब ताजा मामला इंस्टाग्राम का सामने आया है।कर्नाटक के मंगलुरु की रहने वाली एक महिला के लिए इंस्टाग्राम चलाना भारी पड़ गया और उसके बैंक खाते से लाखों रुपये गायब हो गए। महिला के बैंक खाते से करीब 74 लाख रुपये उड़ गए हैं, जिसकी वजह इंस्टाग्राम पर चल रहा एड बताया जा रहा है। आइए आपको इस मामले के बारे में विस्तार से बताने के साथ ही ऑनलाइन फ्रॉड से बचने के कुछ टिप्स भी बताते हैं।

शेयर ट्रेडिंग घोटाले के कई लोग शिकार
दरअसल, मार्केट में एक नया घोटाला शेयर ट्रेडिंग का चल रहा है। व्हाट्सएप पर फाइनेंस ग्रुप के जरिए लोगों से ठगी की जा रही है तो वहीं, इंस्टाग्राम से भी एड के माध्यम से एक महिला के साथ ठगी हुई है। शेयर ट्रेडिंग या शेयर मार्केट में पैसे कमाने के झांसे वाले मामले भी बढ़ते जा रहे हैं। हम जिस मामले की बात कर रहे हैं उसमें एक महिला इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप दोनों के यूज के साथ ठगी की शिकार हुई है।

क्या है पूरा मामला?
एक रिपोर्ट के अनुसार 15 मार्च को इंस्टाग्राम का इस्तेमाल करने के दौरान महिला ने शेयर ट्रेडिंग के एड पर अधिक पैसा कमाने की जानकारी के लिए क्लिक किया। एड में दिख रहे नंबर पर महिला ने जानकारी के लिए मैसेज किया था, जिसके बाद उन्हें व्हाट्सएप पर एक मैसेज आया। व्हाट्सएप पर बातचीत करने के दौरान वो अनजान व्यक्ति शेयर मार्केटिंग से संबंधित जानकारी रखने वाला और भरोसेमंद लगा। इसके बाद उस अनजान शख्स ने एक लिंक भी शेयर किया जिस पर क्लिक करके वो “D101 Artemis Seminar Group” नामक व्हाट्सएप ग्रुप में शामिल हो गई।

इसी ग्रुप में 25 अप्रैल को महिला ने एक और लिंक पर क्लिक किया जो “आर्टेमिस प्रॉफिट ट्रेडिंग” के नाम से था। इस कंपनी के लिंक पर क्लिक करके शेयर बाजार के लिए अकाउंट ओपन करवाया गया। साथ ही जालसाज ने महिला से ज्यादा निवेश पर ज्यादा मुनाफा मिलेगा, ये भी कहा। इतना ही नहीं, महिला से धीरे-धीरे करके 15 जुलाई से लेकर 4 जुलाई तक के बीच कुल 73.6 लाख रुपये अलग-अलग बैंकों में जमा करा लिए गए। इसके अलावा महिला ने 50 हजार रुपये अलग से भी दिए। इस तरह से करीब 74 लाख रुपये के आसपास महिला ने पैसे गवा दिए।

नहीं मिले पैसे वापस
करीब 74 लाख रुपये गवा देने के बाद महिला को जानकारी हुई कि उसके साथ धोखाधड़ी हुई है। हालांकि, इसके बाद महिला ने खूब कोशिश की कि उसके पैसे वापस मिल सकें लेकिन फिर भी वो अपने पैसे हासिल नहीं कर सकी। इस मामले की जानकारी महिला ने साइबर क्राइम और आर्थिक अपराध शाखा को दी। फिलहाल, मामले की जांच चल रही है।

ऑनलाइन फ्रॉड से कैसे बचें?
किसी भी लिंक पर क्लिक न करें।
अनजान नंबर से संपर्क करने से पहले उसकी पहचान की पुष्टि करें।
किसी भी यूआरएल पर क्लिक न जाएं।
ऑनलाइन लेन-देन के दौरान ये ध्यान रखें कि आप किसे पैसे भेज रहे हैं।

Share this story

Tags