Samachar Nama
×

अब YouTube Shorts के साथ सिर्फ मनोरंजन ही नहीं कर सकते है मोटी कमाई भी, जानिए कितने व्यूज पर मिलेंगे कितने पैसे ? 

अब YouTube Shorts के साथ सिर्फ मनोरंजन ही नहीं कर सकते है मोटी कमाई भी, जानिए कितने व्यूज पर मिलेंगे कितने पैसे ? 

टेक न्यूज़ डेस्क - यूट्यूब कंटेंट क्रिएटर्स को यूट्यूब शॉर्ट्स के जरिए हर महीने हजारों-लाखों रुपये कमाने का मौका मिलता है। ऐसे में अगर आप भी वीडियो और कंटेंट क्रिएटर हैं और आपको शॉर्ट वीडियो बनाना अच्छे से आता है तो आप यूट्यूब शॉर्ट्स के जरिए पैसे कमा सकते हैं। अब सवाल यह उठता है कि यूट्यूब शॉर्ट्स से पैसे कैसे कमाए जाएं। आज हम यूट्यूब शॉर्ट्स मोनेटाइजेशन यानी यूट्यूब शॉर्ट्स से पैसे कैसे कमाए जाएं इसके बारे में बता रहे हैं। यूट्यूब शॉर्ट्स एक नया फॉर्मेट है और इसे मोनेटाइज भी किया जा सकता है। यूट्यूब ने 2022 के आखिर में यूट्यूब शॉर्ट्स के मोनेटाइजेशन की बात की थी। इसके बाद से ही कंटेंट क्रिएटर्स का फोकस यूट्यूब के शॉर्ट फॉर्म कंटेंट यूट्यूब शॉर्ट्स की तरफ बढ़ रहा है। हालांकि आपको यह ध्यान रखना होगा कि आप यूट्यूब शॉर्ट्स के जरिए कमाई करने के योग्य हैं या नहीं। यूट्यूब शॉर्ट्स मोनेटाइजेशन से पहले आपको यूट्यूब पार्टनर प्रोग्राम (YPP) की पात्रता चेक करनी होगी।

कम से कम 1000 सब्सक्राइबर जरूरी
यूट्यूब पार्टनर प्रोग्राम (YPP) का हिस्सा बनने के लिए आपके चैनल पर कम से कम 1000 सब्सक्राइबर होने चाहिए। इसके साथ ही, पिछले साल में 4000 पब्लिक वॉच ऑवर्स या पिछले 90 दिनों में 10 मिलियन (1 करोड़) शॉर्ट व्यू होना ज़रूरी है। अगर आपके पास 1000 सब्सक्राइबर नहीं हैं, तो भी आप अपने चैनल को मॉनेटाइज़ कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपको कुछ मॉनेटाइज़ेशन टूल एक्सेस करने के लिए इन एलिजिबिलिटी टूल की ज़रूरत होगी।

500 सब्सक्राइबर
पिछले 90 दिनों में 3 पब्लिक अपलोड
पिछले साल में 3000 पब्लिक वॉच ऑवर्स या पिछले 90 दिनों में 30 लाख शॉर्ट व्यू।

YouTube शॉर्ट्स से कमाई कैसे शुरू करें?
YouTube में साइन इन करें
ऊपरी दाएं कोने में अपनी प्रोफ़ाइल पिक्चर पर क्लिक करें और YouTube स्टूडियो पर क्लिक करें
फिर बाईं ओर मेनू में अर्न पर क्लिक करें।
अगर आप एलिजिबल हैं, तो अप्लाई बटन दिखाई देगा। अगर आप अभी एलिजिबल नहीं हैं, तो गेट नोटिफ़ाइड पर क्लिक करें और उसमें बताई गई ज़रूरतों को पूरा करने के बाद प्रक्रिया पूरी करें।
अब स्टार्ट पर क्लिक करें और नियम और शर्तों की समीक्षा करने के बाद एक्सेप्ट ऑप्शन पर क्लिक करें।
इसके बाद, आपको इसे अपने AdSense अकाउंट से लिंक करना होगा, अगर ज़रूरी हो तो नया अकाउंट सेटअप करने के लिए स्टार्ट पर क्लिक करें।
इसके बाद YouTube आपके आवेदन की जाँच करेगा। YouTube को यह काम करने में एक महीने तक का समय भी लग सकता है। आवेदन स्वीकार होने के बाद, YouTube Studio के Earn सेक्शन में वापस जाएँ और Shorts Monetization Module को स्वीकार करें।
YouTube Shorts का विज्ञापन रेवेन्यू-शेयरिंग प्रोग्राम कंटेंट क्रिएटर्स को उनके शॉर्ट्स व्यू के आधार पर पैसे कमाने की अनुमति देता है। आगे जानें कि कंटेंट क्रिएटर्स को कमाई का हिस्सा कैसे मिलता है।

1. पूल्ड शेयरेबल विज्ञापन रेवेन्यू: यह आय सभी शॉर्ट्स के बीच चलने वाले विज्ञापनों से होने वाली कुल आय है। इसका एक हिस्सा कंटेंट क्रिएटर्स को जाता है और एक हिस्सा म्यूजिक का लाइसेंस खरीदने में जाता है।
2. क्रिएटर पूल की गणना शॉर्ट्स द्वारा लाए गए व्यू और इन शॉर्ट्स में मौजूद म्यूजिक के आधार पर की जाती है।
3. क्रिएटर पूल शेयर का इस्तेमाल शॉर्ट्स क्रिएटर को उनके शॉर्ट्स को मिलने वाले व्यू के आधार पर मोनेटाइज करने के लिए किया जाता है। एक क्रिएटर को कमाए गए पैसे का 45% मिलता है।
4. YouTube शॉर्ट्स से होने वाली कमाई की बात करें तो क्रिएटर्स को 1000 व्यूज पर 0.05 से 0.07 डॉलर तक मिलते हैं. और अगर यही 1 मिलियन व्यूज हो जाएं तो करीब 50-70 डॉलर मिलते हैं.
5. YouTube सुपर थैंक्स से होने वाली कमाई इस बात पर निर्भर करती है कि आपके सब्सक्राइबर्स से आपके कंटेंट को कितनी अहमियत मिल रही है. आप उनके साथ कितना अच्छा रिश्ता बना पाए हैं. आखिर सुपर थैंक्स एक डिजिटल टिप की तरह है.
6. YouTube शॉर्ट्स से पैसे तो मिलते हैं, लेकिन यह कमाई उस कमाई की भरपाई नहीं कर पाएगी जो एक क्रिएटर आमतौर पर लॉन्ग फॉर्म कंटेंट वाले YouTube वीडियो से कमाता है.

Share this story

Tags