Samachar Nama
×

Google Wallet और DigiLocker में कितना है अंतर, ये खास फीचर इसे डिजिलॉकर से बनाते है बिलकुल अलग 

Google Wallet और DigiLocker में कितना है अंतर, ये खास फीचर इसे डिजिलॉकर से बनाते है बिलकुल अलग 

टेक न्यूज़ डेस्क - Google का अपना ऑनलाइन भुगतान ऐप Google Pay और वॉलेट Google वॉलेट है। भारत में Google Pay का इस्तेमाल पहले से ही किया जा रहा है. अब Google ने भारतीय यूजर्स के लिए Google वॉलेट लॉन्च किया है। गूगल ने इस वॉलेट को साल 2022 में अमेरिका में लॉन्च किया था। अब इस वॉलेट को भारत में लॉन्च किया गया है। Google वॉलेट की तरह DigiLocker पहले से ही भारतीय बाजार में मौजूद है। ऐसे में यूजर के मन में सवाल है कि गूगल वॉलेट डिजीलॉकर से कितना अलग है। इन दोनों वॉलेट की विशेषताएं जानने से पहले हमें यह जानना चाहिए कि Google वॉलेट क्या है।

Google वॉलेट क्या है?
Google वॉलेट एक डिजिटल वॉलेट है. जैसे घर की कपड़ों की अलमारी में एक लॉकर होता है, गूगल वॉलेट भी उसी तरह का वॉलेट है। Google वॉलेट का उपयोग आपके महत्वपूर्ण दस्तावेज़ों को सुरक्षित करने के लिए किया जा सकता है। इस वॉलेट में यूजर बोर्डिंग पास, टिकट जैसी रोजमर्रा की चीजें रख सकता है।

इसका मतलब है कि आप इस वॉलेट में आधिकारिक और व्यक्तिगत दस्तावेज़ सहेज सकते हैं। Google वॉलेट ने PVR और INOX, एयर इंडिया, इंडिगो, फ्लिपकार्ट, पाइन लैब्स, कोच्चि मेट्रो आदि जैसे 20 भारतीय ब्रांडों के साथ साझेदारी की है। आपको बता दें कि Google वॉलेट में दस्तावेज़ संग्रहीत होते हैं। इस वॉलेट के माध्यम से कोई भुगतान नहीं किया जाता है. ऑनलाइन पेमेंट के लिए आप गूगल के प्रोडक्ट Google Pay (GPay) का इस्तेमाल कर सकते हैं.

डिजिलॉकर ऐप के बारे में
डिजिलॉकर भारत सरकार द्वारा लॉन्च किया गया था। यह भी एक तरह का डिजिटल वॉलेट है. इसमें आप अपने आधिकारिक दस्तावेज भी स्टोर कर सकते हैं. इसका मतलब है कि आप इसमें निजी दस्तावेज़ स्टोर नहीं कर सकते, जबकि Google Store में आप सभी प्रकार के दस्तावेज़ स्टोर कर सकते हैं।

Share this story

Tags