Samachar Nama
×

Google Pay यूजर्स के लिए आई बुरी खबर! 4 जून के बाद इस देश में काम नहीं करेगा एप, कंपनी ने बताया कारण 

Google Pay यूजर्स के लिए आई बुरी खबर! 4 जून के बाद इस देश में काम नहीं करेगा एप, कंपनी ने बताया कारण 

टेक न्यूज़ डेस्क - गूगल पे (G Pay) पेमेंट सर्विस भारत ही नहीं बल्कि दुनिया की बड़ी पेमेंट सर्विस में से एक है। गूगल अब 4 जून से अपनी पेमेंट सर्विस ऐप को बंद करने जा रहा है। गूगल ने इसे बंद करने की वजह भी साफ की है। गूगल ने हाल ही में भारत में गूगल वॉलेट लॉन्च किया है। भारत में यूजर गूगल वॉलेट को अपने डिजिटल वॉलेट की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। गूगल वॉलेट का विस्तार करने के लिए कंपनी कई देशों में गूगल पे सर्विस को बंद करने जा रही है।

4 जून से यहां काम नहीं करेगा ऐप
गूगल ने बताया कि 4 जून से अमेरिका में गूगल पे सर्विस को बंद किया जा रहा है। इसके अलावा कंपनी दूसरे देशों में भी इस सर्विस को बंद करेगी। हालांकि गूगल ने यह भी साफ किया है कि भारत और सिंगापुर में गूगल पे पहले की तरह काम करेगा। इन दोनों देशों में गूगल पे को स्टैंडअलोन ऐप की तरह इस्तेमाल किया जा सकेगा, जिसके जरिए यूजर यूपीआई पेमेंट कर सकेंगे। भारत में नहीं पड़ेगा कोई असर गूगल ने अपने ब्लॉग में बताया कि अमेरिका में गूगल पे सर्विस बंद होने से भारतीय यूजर्स पर कोई असर नहीं पड़ेगा। भारत में गूगल पे और गूगल वॉलेट दोनों ही अलग-अलग तरीके से काम करेंगे। भारत में गूगल पे के करोड़ों यूजर हैं।

गूगल ने अपने ब्लॉग में कहा कि 4 जून के बाद अमेरिका में गूगल पे काम नहीं करेगा। जिन यूजर्स के पास गूगल पे में बैलेंस है, वे 4 जून तक अपने बैलेंस को अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं। हालांकि, कंपनी ने यह भी स्पष्ट किया है कि इसके बाद भी यूजर्स गूगल पे के सबसे लोकप्रिय फीचर टैप टू पे का इस्तेमाल कर सकेंगे। हालांकि, इसके लिए उन्हें गूगल वॉलेट के जरिए इस सर्विस को एक्सेस करना होगा। इतना ही नहीं, यूजर्स गूगल वॉलेट के जरिए ऑनलाइन पेमेंट सर्विस का भी इस्तेमाल कर सकेंगे। ऐप बंद होने के बाद यूजर वेबसाइट के जरिए अपने गूगल पे बैलेंस को अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर सकेंगे।

गूगल वॉलेट का विस्तार करने का फैसला
गूगल वॉलेट ऐप को गूगल ने साल 2022 में अमेरिकी बाजार में लॉन्च किया था। इस ऐप को यूजर्स गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकेंगे। यह यूजर्स का निजी डिजिटल वॉलेट होगा, जिसके जरिए यूजर्स डिजिटल पेमेंट सर्विस को एक्सेस कर सकेंगे। गूगल पे को अमेरिका में गूगल वॉलेट में इंटीग्रेट कर दिया गया है, जिसके जरिए यूजर कॉन्टैक्टलेस पेमेंट जैसी अन्य सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।

Share this story

Tags