Samachar Nama
×

कब है उत्पन्ना एकादशी व्रत, जानिए पूजन का शुभ मुहूर्त, विधि और महत्व

Utpanna ekadashi 2021 when is utpanna ekadashi know the auspicious time of worship puja vidhi and importance

ज्योतिष न्यूज़ डेस्क: हिंदू धर्म पंचांग के अनुसार एक मास में दो एकादशी व्रत होते हैं एक शुक्ल पक्ष में और दूसरा कृष्ण पक्ष में कार्तिक पूर्णिमा के बाद कृष्ण पक्ष में पड़ने वाली एकादशी को उत्पन्ना एकादशी के नाम से जाना जाता हैं उत्पन्ना एकादशी महत्वपूर्ण मानी जाती हैं इसे एकादशी की जयंती माना जाता हैं वार्षिक उपवास रखने का संकल्प लेने वाले भक्त उत्पन्ना एकादशी से एकादशी का व्रत शुरू करते हैं इस साल उत्पन्ना एकादशी 30 नवंबर 2021 दिन मंगलवार को मनाई जाएगी। तो आज हम आपको इस एकादशी के बारे में बता रहे हैं तो आइए जानते हैं। 

Utpanna ekadashi 2021 when is utpanna ekadashi know the auspicious time of worship puja vidhi and importance

सभी एकादशी व्रत देवी एकादशी को समर्पित हैं जो भगवान विष्णु की शक्तियों में से एक हैं ऐसा माना जाता है कि एकादशी का जन्म भगवान विष्णु का वध करने वाले राक्षस मूर का विनाश करने के लिए भगवान विष्णु की देह से हुआ था। इसलिए इस दिन ​श्री विष्णु के भक्त उनका आशीर्वाद लेने के लिए एकादशी का व्रत रखते हैं देवी एकादशी श्री विष्णु की सुरक्षात्मक शक्तियों में से एक हैं। 

Utpanna ekadashi 2021 when is utpanna ekadashi know the auspicious time of worship puja vidhi and importance

जानिए उत्पन्ना एकादशी का मुहूर्त—
उत्पन्ना एकादशी शुरुआत –  30 नवंबर 2021, मंगलवार सुबह 04:13 बजे
उत्पन्ना एकादशी समापन –  01 दिसंबर 2021, बुधवार मध्यरात्रि 02: 13 बजे
पारण तिथि हरि वासर समाप्ति का समय –  सुबह 07:34 मिनट
द्वादशी व्रत पारण समय: 01 दिसंबर 2021, सुबह 07:34 बजे से 09: 01 मिनट तक

Utpanna ekadashi 2021 when is utpanna ekadashi know the auspicious time of worship puja vidhi and importance

उत्पन्ना एकादशी की पूजन विधि—
इस दिन भक्त सुबह जल्दी उठते हैं साफ वस्त्र धारण करते हैं धूप, दीपक, पुष्प, चंदन, पुष्प, तुलसी से भगवान विष्णु की व्रत पूजा करते हैं वे श्री विष्णु को प्रसन्न करने के लिए एक विशेष भोग भी तैयार करते हैं हर दूसरी पूजा की तरह अनुष्ठान किए जाते हैं और भक्त विशिष्ट व्रत कथा पढ़तें हैं और पारण में व्रत खोलते हैं इस दिन पवित्र जल में डुबकी लगाना शुभ माना जाता हैं ऐसा करने से सभी दोष नष्ट हो जाते हैं और मनचाहा वरदान मिलता हैं। 
 
Utpanna ekadashi 2021 when is utpanna ekadashi know the auspicious time of worship puja vidhi and importance

Share this story